वेब डेवलपमेंट क्या है – प्रकार, कोर्स और वेब डिजाइनिंग

आपको यह जरूर पता होगा कि वेब डेवलपमेंट काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है। लेकिन आपको शायद यह पता नही होगा कि वेब डेवलपमेंट क्या है, वेब डेवलपमेंट का करियर स्कोप कितना है, वेब डेवलपर कैसे बने, वेब डेवलपर क्या काम करता है, वेब डेवलपर के लिए कोर्स क्या है, वेब डेवलपर की सैलरी कितनी होती है आदि।

अगर आपके पास इन सवालों के जवाब नही है तो यह आर्टिकल केवल आपके लिए ही है। आप शायद यह जानते होंगे कि इस डिजिटल दुनिया में वेबसाइट डेवलपमेंट या वेबसाइट डिजाइनिंग एक बेहतरीन करियर विकल्प बन चुका है। और अगर भविष्य में सफल होना है तो आप वेब डेवलपमेंट के करीयर को अवश्य चुने।

इस आर्टिकल में, मैंने सभी आवश्यक जानकारीयों को आपके साथ सांझा किया है, जैसे वेब डेवलपमेंट क्या है, 12वीं के बाद वेब डेवलपर या वेब डिजाइनर कैसे बनें, वेब डेवलपमेंट का कोर्स क्या है, जॉब विकल्प क्या है, और सैलरी कितनी है आदि।

Contents दिखाए

वेब डेवलपमेंट क्या होता है (Web Development Kya Hai)

अगर मैं आपको Web Development को Simple Words में बताऊं तो इसका मतलब Web यानी Website को Develop (बनाना) करना है। वेब डेवलपमेंट में इंटरनेट के लिए वेबसाइट्स, सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन्स आदि बनाने के बारे में सिखाया जाता है।

वेब डेवलपमेंट में केवल वेबसाइट को डिजाइन नही किया जाता है, बल्कि इसमें कोडिंग और प्रोग्रामिंग भी की जाती है। जब आप इंटरनेट पर किसी जानकारी के लिए सर्च करते है तो आपको अनेक वेबसाइट्स दिखाई देती है। यह सभी वेबसाइट वेब डेवलपर के द्वारा ही बनायी जाती है, जो प्रोग्रामिंग और कोडिंग करके बनाते है।

इसमें Websites की Building करना, उन्हें Create करना, और साथ में उन्हें Maintain करना आदि शामिल होते है। इसके अलावा Web Publishing, Web Programming, Web Design, और Database Management भी शामिल होते है। कुछ लोग जानना चाहते है कि Website Development Kya Hai, तो वेब डेवलपमेंट को ही वेबसाइट डेवलपमेंट कहा जाता है।

यह भी जानिए : ऐप डेवलपमेंट क्या है ?

वेब डेवलपमेंट के लिए भारत में करीयर स्कोप क्या है?

आप अगर आज के समय में वेब डेवलपमेंट की पढ़ाई पूरी करते है तो आपको आासनी से नौकरी मिल जाएगी। वर्तमान में बहुत सारी कंपनीयां है जो वेब डेवलपर को नौकरीयां दे रही हैं। आप जानते ही है कि इंटरनेट की उपयोग अब और भी ज्यादा बढ़ रही है, इसीलिए अब 5G Network भी आ गया है।

इंटरनेट के बढ़ते उपयोग को देखते हुए कहा जा सकता है कि भविष्य में वेब डेवलपर की मांग बहुत ज्यादा होने वाली है। अगर आप एक वेब डेवलपर बन चाहते है और आपको कोई जॉब नही मिल रही है। तो ऐसे स्थिति में भी आपके सामने पैसे कमाने के बहुत सारे तरीके हैं।

आप गूगल पर सर्च करेंगे तो आपको इंटरनेट से पैसे कमाने के अनेक तरीके मिल जाएंगे। अगर आपको वेब डेवलपमेंट का अच्छा नॉलेज है तो आप फ्रीलांसिंग कर सकते है। और फ्रीलांसिंग में भी अपना करीयर बना सकते है, जिसके बाद आपको नौकरी की भी जरूरत नही पड़ेगी। आप फ्रीलांसिंग वेबसाइट जैसे Fiverr, Upwork, Freelancing आदि, से वेब डेवलपमेंट से संबंधित काम प्राप्त कर सकते है।

वेब डेवलपर कौन होता है (Web Developer Kaun Hota Hai)

एक वेब डेवलपर कोडिंग और प्रोग्रामिंग भाषाओं द्वारा website  बनाता है, database तैयार करता है, web based software बनाता है और domain hosting management करता है। मतलब एक ब डेवलपर वेबसाइट की रूपरेखा तैयार करता है, और साथ ही डिज़ाइन व विकास करता है।

इसके अलावा आप कोडिंग के बारे में तो अवश्य जानते होंगे कि कोडिंग English के Alphabets होते हैं, जिन्हे सही तरीके से कोड के रूप में इस्तेमाल करते है। अगर आप एक वेब डेलपर बनते है तो आपको HTML Programming Language, CSS Language, PHP Language, और Java Script Language के बारे में सिखना होगा।

मुख्य रूप से वेब डेवलपर तीन प्रकार के होते हैं, जो निम्नलिखित हैं-

  1. फ्रेंट-एंड (Front-End) वेब डेवलपर
  2. बैकएंड (Backend) वेब डेवलपर
  3. फुल स्टैक (Full Stack) वेब डेवलपर

#1. फ्रेंट-एंड (Front-End) वेब डेवलपर

इस तरह का वेब डेवलपर HTML, CSS और Java Script जैसी कोडिंग भाषाओं के माध्यम से वेब डिजाइनिंग करता है। इसे वेब डिजाइनर भी कहा जाता है, जो वेबसाइट को डिजाइन करता है। इसके अलावा Front end Development कोक्लाइंट साइड डेवलपमेंट भी कहा जाता है।

एक Front end Developer वेबसाइट डिजाइनिंग और वेबसाइट थीम जैसी चीजों को बनाने के लिए कोडिंग करता है। यह डेवलपर उपयोगकर्ता इंटरफेस, व अनुभव को आसान बनाता है। इसका काम होता है कि वह वेबसाइट विजिटर के लिए वेब पेज को आसान बनाए ताकि विजिटर को वेबसाइट के साथ Interact करना आसान हो।

#2. बैकएंड (Backend) वेब डेवलपर

Back End Development का उपयोग वेबसाइट को Run कराने के लिए किया जाता है। इसमें यूजर्स को कोडिंग दिखाई नही देती है, लेकिन इसमें वेबसाइट की सारी कोड़िंग होती है जो वेबसाइट को Run करन में मदद करती है।

इसलिए इसे वेबसाइट की Backbone कहा जाता है। इसमें ही वेबसाइट का सारा जटिल हिस्सा होता है क्योंकि इसमं वेबसाइट के सारे Database को मैनेज किया जाता है।

किसी भी वेबसाइट को बनाने के  लिए दो तरह के लोग उपयोगी होते हैं, वेब डिजाइनर और वेब डेवलपर। इसमें वेब डेवलपर वेबसाइट के Backend Development का कार्य करता है।

मतलब यह वेबसाइट के Functionality Coding  पर काम करता है और वेबसाइट को Smooth Run कराता है। जब आप वेबसाइट पर पिक्चर डालते है तो उसका मैनेजमेंट वेब डेवलपर ही करता है।

यह वेब डेवलपर PHP, Java, Ruby, Python, और .Net जैसी प्रोग्रामिंग भाषाओं में माहिर होता है, जो Apache, Nginx, Microsoft IIS सर्वर आदि को हैंडल करता है।

#3. फुल स्टैक (Full Stack) वेब डेवलपर

यह डेवलपर front end development और back end development दोनों में ही माहिर होता है। मतलब इसे फ्रंट-एंड कोडिंग भाषाओं (HTML, CSS, Java Script) का ज्ञान होता है, और साथ ही बैकएंड प्रोग्रामिंग भाषाओं (PHP, Python, Java, Ruby और .Net) का भी ज्ञान होता है। अत: इसे वेब डिजाइनिंग के साथ साथ Database, Cache, Server और API आदि का भी ज्ञान होता हैं।

Web Developer Examples बताइएं

अगर Web Developer Examples की बात करें तो ऐसे बहुत सारे उदाहरण है जो वेब डेवलपर की मदद से बनाए गए है। मैं आपको एक आसान उदाहरण से वेब डेलपमेंट के बारे में बताता हूं।

जब आप ब्राउजर पर किसी जानकारी को सर्च करते है तो आपको अनेक वेबसाइट्स मिलती है। और आप उन वेबसाइट्स को खोलकर किसी भी आर्टिकल को आसानी से पढ़ सकते है। लेकिन क्या आपको पता है कि यह आर्टिकल आपको कोडिंग की वजह से ही पढ़ने के लिए मिल रहा है।

आर्टिकल में शब्दों के अलग-अलग Fonts का इस्तेमाल करना, उन्हे कलर करना, डिजाइन करना, फोटो लगाना, वीडियों लगाना आदि काम कोडिंग के द्वारा ही किये जाते हैं। आप इसी आर्टिकल पर राइट क्लिक करके Inspect Element को खोलेंगे तो आपको इस आर्टिकल को बनाने के पीछे की कोडिंग दिख जाएगी।

मैने यहां पर कुछ Web Developer Portfolio Examples भी दिये हैं, जैसे-

  1. Moiz Amir Ali
  2. Tamal Sen
  3. AlexandrRozumenko
  4. ChintanMathukiya
  5. KrushalSonani
  6. OthmaneNejdi

वेब डेवलपर का क्या काम होता है?

एक वेब डेवलपर के लिए अनेक तरह के काम होते हैं, जैसे वेबसाइट डिजाइन करना, उसे बनाना, मैनेज करना और संशोधित करना आदि। वेब डेवलपर का काम वेबसाइट की तकनीकी पहलुओं जैसे वेबसाइट की क्षमता और प्रदर्शन को नियंत्रित करना होता है। इसके अलावा वेबसाइट के लिए सर्वर को भी नियंत्रित करता है।

वेब डेवलपर क्यों बनना चाहिए – कारण

वेब डेवलपमेंट को करीयर के रूप में चुनने के कई कारण हो सकते हैं, जिसमें से मैने कुछ मुख्य कारण नीचे दिए हैं।

  1. वेब डेवलपर के काम के लिए अच्छी सैलरी मिलती है।
  2. वेब डेलपमेंट के लिए भविष्य में काफी करीयर स्कोप हैं।
  3. यह काम काफी दिलचस्प और मजेदार होता है।
  4. वेब डेवलपमेंट का कोर्स पूरा करने के बाद आप किसी भी जगह पर आसानी से जॉब ले सकते है।
  5. वेब डेवलपर का काम आप स्वतंत्र रूप से या टिम के साथ कर सकते है, अन्यथा आप फ्रीलांसिंग के रूप में काम कर सकते है।

वेब डेवलपर बनने के लिए योग्यता की जरूरत

वेब डेवलपमेंट के कोर्स को करने के लिए किसी भी विशेष शैक्षणिक योग्यता की जरूरत नही होती है। मतलब अगर आप साइंस या आर्ट्स के स्टूडेंट है तो भी आप वेब डेवलपमेंट का कोर्स कर सकते है।

हालांकि अगर आपकी 12वीं की पढ़ाई Computer science/computer programming language में होती है तो आपको वेब डेवलपर बनने में आपको काफी मदद मिलेगी।

अगर आप वेब डेवलपमेंट का कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए 12वीं कक्षा पास होना बेहद जरूरी है, तभी आप किसी कोचिंग संस्थान में दाखिला ले सकते है। आप वेब डेवलपर बनने के लिए computer science या BCA में graduation course कर सकते है।

वेब डेवलपर बनने के लिए Skills की जरूरत

Web developer का काम एक Professional काम है जिसके लिए Skills का होना बेहद जरूरी है, अन्यथा आप वेब डेवलपमेंट को समझ नही पाएंगे। तो चलिए मैं आपको उन स्किल के बारे में बताता हूं जो वेब डेवलपर बनने के लिए जरूरी है।

  1. Web Developer बनने के लिए आपका क्रिएटिव और लॉजिकल होना बेहद जरूरी है।
  2. एक प्रोफेशनल वेब डेवलपर के लिए आपको कुछ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, जैसे CSS, HTML, PHP, JavaScript, Java, query आदि का ज्ञान होना आवश्यक है।
  3. वेब डेवलपर बनने के लिए Communication Skill का होना बेहद जरूरी है।
  4. Communicationस्किल के अलावा Management Skill का होना भी जरूरी है।
  5. आपको ज्यादा से ज्यादा New trend पर नजर रखनी होगी।
  6. इसके लिए सॉफ्टवेयर लैंग्वेज की अच्छी जानकारी होनी चाहिए।
  7. आपको कुछ टूल का इस्तेमाल करना आना चाहिए जैसे – Photoshop, Canvas, Picsart आदि।

वेब डेवलपर कैसे बने?

Web Development का कोर्स बहुत ही मजेदार कोर्स है, लेकिन उतना ही ज्यादा मुश्किल भी है। अत: वेब डेवलपमेंट को अपना करीयर चुनने से पहले इसके बारे पूरी जानकारी जरूर ले। और इसके बाद विचार करे कि क्या आप वेड डेवलपर का काम कर सकते है।

एक वेब डेवलपर बनने के लिए आपके पास दो विकल्प है, ऑनलाइन कोर्स और Offline कोर्स। अगर आप ऑनलाइन कोर्स करते है तो भी आपके लिए बहुत फायदेमंद है, लेकिन अगर ऑफलाइन कोर्स करते है तो इसके ज्यादा फायदे हैं।

वेब डेवलपर बनने के लिए आप 8वीं, 10वीं और 12वीं कक्षा के बाद इसकी पढ़ाई शुरू कर सकते है। आप 10वीं या 12वीं कंप्यूटर साइंस के विषय में कर सकते है। इसके अलावा आप कॉमर्स विषय में भी पढ़ाई कर सकते है। जिससे आपको डेव डेवलपर बनने में आपको काफी मदद मिलेगी।

इसके बाद आपको Bachelor in Computer Application (BCA) या B.Tech in computer science की डिग्री लेनी होगी। आप इसकी जगह पर कोई कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते है।

डिग्री लेने के बाद आप किसी इंस्टिट्यूट से कंप्यूटर की एडवांस लैंग्वेज को सीख सकते है, और फिर आप एक एक्सपर्ट वेब डेवलपर बन सकते है।

  1. B.Tech in computer science
  2. Bachelor in computer application
  3. Diploma in Computer Science

वेब डेवलपर बनने के लिए कुछ Secret Tips

क्या आपको पता है कि आप वेव डेवलपमेंट की पढ़ाई अपने घर बैठे फ्री में भी  कर सकते है। अगर आप वेब डेवलपर बनना चाहते है तो निम्नलिखित टिप्स को ध्यान में रखते हुए पढ़ाई करे।

#1. अपना लक्ष्य चुने

आप वेब डेवलपमेंट के करीयर को शुरू करने के लिए 3 या 6 महीनों का लक्ष्य निर्धारित कर सकते है। बिना लक्ष्य के आप वेब डेवलपमेंट को बीच में ही छोड़ देंगे।

#2. पढ़े और प्रेक्टिस करे

अपने लक्ष्य का निर्धारण करने के बाद आप कोर्स को पढ़ना शुरू करे। इसके लिए आपको सबसे पहले HTML के बेसिक को समझना होगा। इसके बाद आपको CSS व Java Script को भी समझना होगा। और साथ ही आपको लगातार प्रेक्टिस भी करनी होगी।

#3. UI और UX को समझने की कोशिश करें

UI और UX को समझना जरूरी है क्योंकि इससे आपको Colour Combination, Layout, बटन आदि को कहां और कैसे लगाने के बाद ज्ञान होता है।

#4. SEO को सीखे

अब आपको SEO यानी Search Engine Optimization के बारे में सिखना होगा।

#5. वेब डेवलपमेंट के प्रोजेक्ट को खत्म करे

HTML, CSS और Java Script सिखने के बाद आपको प्रोजेक्ट बनाना शुरू करना होगा।

नोट : इन सभी उपरोक्त टिप्स से आप वेब डेवलपर बन सकते है।

वेब डेवलपमेंट के लिए कोर्स क्या है?

यह कोर्स करने के लिए आपके पास अनेक विकल्प हैं। आप किसी भी नजदीकी इंस्टीट्यूट में जाकर यह कोर्स 6 महीने से 2 साल में आसानी से कर सकते है। अगर आप इसमें अपना करीयर बनाना चाहते हैं तो आपको 10वीं और 12वीं में ही कंप्यूटर की पढाई शुरू कर देनी चाहिए।

आप 10वीं या 12वीं कक्षा में कंप्यूटर साइंस विषय में पढ़ाई शुरू कर सकते है। इसके बाद आपको कंप्यूटर साइंस के क्षैत्र में अलग-अलग तरह के कोर्स करने होंगे। मुख्यत: वेब डेवलपर बनने के लिए BSc कंप्यूटर साइंस, BComकंप्यूटर साइंस, BCA कोर्स होते हैं।

आपको उपरोक्त विषय में डिग्री लेने यानी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद MCA या MBA IT को चुन सकते है। यह कोर्स करने के बाद अच्छी अच्छी जॉब आपको आसानी से मिल जाएगी। इसके अलावा फुल टाइम के कोर्स के लिए नेशनल या इंस्टीट्यूट लेवल एंट्रेंस एग्जाम होते है।

आप यह कोर्स ऑनलाइन प्लेटफोर्म जैसे गूगल, फ्यूचर लर्न, शाइन, एडएक्स, कोर्सेरा, उडासिटी, उडेमी और अपग्रैड से भी किया जात सकता है। इसके अलावा अगर आप केवल वेबसाइट डिजाइनिंग को सिखना चाहते है, तो कोर्स आप आसानी से 3 से 6 महीनों में पूरा कर सकते है।

  1. HTML COURSE
  2. CSS LANGUAGE
  3. PHP Language
  4. Java Language

वेब डेवलपमेंट कोर्स कहां से करना चाहिए

मैं आपको पहले ही बता चूका हूं कि आप यह कोर्स ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से कर सकते है।

ऑफलाइन इस तरह का कोर्स करने के लिए आपको अनेक इंस्टीट्यूट मिल जाएंगे। लेकिन आप ऑनलाइन कोर्स कर रहे है तो आप निम्नलिखित प्लेटफॉर्म को चु सकते है।

  1. YouTube (Free)
  2. Udemy
  3. EDx
  4. Skill Share
  5. Coursera

वेब डिजाइनिंग कोर्स फीस कितनी होती है?

वैसे अलग-अलग तरह के कोर्सेस के लिए फीस भी अलग अलग होत हैं। इसके अलावा अल-अलग इंस्टीट्यूट भी अलग-अलग फीस लेते है, भले ही कोर्स एक जैसा हो। अगर मैं आपको मोटा मोटा अंदाजा बताऊं तो आप वेब डिजाइनिंग का कोर्स 55 हजार से 2 लाख रूपयें तक की फीस की जरूरत होती है।

Web Developer Career Scope में Jobs विकल्प

अगर आप वेब डेवलपमेंट के क्षैत्र में एक एक्सपर्ट डेवलपर बन जाते है तो आपके सामने जॉब के लिए अनेक विकल्प खुल जाते हैं। किसी भी प्राइवेट कंपनी में पार्ट टाइम या फुल टाइम जॉब कर सकते है। इसके अलावा आप कंप्यूटर क्षैत्र में ही सरकारी नौकरी भी कर सकते है।

अगर आप स्वतंत्र रहकर काम करना पसंद करते है तो आप फ्रीलांसिंग वेबसाइट से काम प्राप्त कर सकते है जिसे आप स्वतंत्रता से पूरा कर सकते है।

वेब डेवलपमेंट में जॉब के लिए अनेक विकल्प हैं, जैसे- फ्रंट-एंड डेवलपर, फुलस्टैक इंजीनियर, वेब डेवलपर, प्रोजेक्ट मैनेजर, और सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट आदि। अगर आप अपनी टेक्निकल स्किल्स को अच्छे से अपग्रेड कर लेते है तो आप गेम डेवलपर का काम भी प्राप्त कर सकते है।

वेब डेवलपर सैलरी इन इंडिया कितनी होती है

वेब डेवलपर तीन प्रकार के होते है, जिसमें Frontend Web Developerऔर Backend Web Developer प्रमुख हैं। अगर मैं आपको एक वेब डेवलपर की सैलरी के बारे बताऊं तो इनकी सैलरी निम्न लिखित प्रकार से होती हैं-

  • Frontend Web Developer Estimate Salary: 2 लाख से 3.5 लाख रूपयें
  • Backend Web Developer Estimate Salary: 4 लाख से 8 लाख रूपयें

FAQs (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

वर्तमान और भविष्य को देखे तो Web Development का करीयर स्कोप बहुत ज्यादा है, और इसीलिए मैने यह आर्टिकल लिखा है। चलिए अब मैं आपको वेब डेवलपमेंट से संबंधित FAQs के बारे में बताता हूं।

अच्छा वेब डेवलपमेंट कैसे बने?

एक वेब डेवलपर बनने के लिए आप 10वीं या 12वीं में कंप्यूटर साइंस विषय में अपनी पढ़ाई शुरू कर सकते है। इसके बाद आप कंप्यूटर साइंस में BSc या B.Techया BCA कर सकते है। मुख्यत: वेब डेवलपर बनने के लिए आपको अलग-अलग तरह की कंप्यूटर लैंग्वेज को सीखना होगा।

एक वेब डेवलपर का काम क्या होता है?

एक वेब डेवलपर वेबसाइट को डेवलप करने और उसकी देखभाल करने का काम करता है। यह सभी तरह की वेबसाइट को मैनेज करता है और उसे कस्टमाइज भी करता है। ये वेब-आधारित सेवाओं, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और कोडिंग के लिए जिम्मेदार होता है।

वेब डेवलपमेंट की सैलरी कितनी होती है?

एक फ्रंट-एंड वेब डेवलपर के लिए औसतन सैलरी करीब 2 से 3.5 लाख रूपयें तक हो सकती है, हालांकि प्रेवश स्तर पर सैलरी कम हो सकती है। इसके अलावा Backend Web Developer के लिए औसतन सैलरी 4 से 8 लाख रूपयें होती हैं।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में, मैने वेब डेवलपमेंट क्या है (What is Web development in Hindi) से संबंधित सभी आवश्यक जानकारीयां दी हैं। अब तक आपको पता चल चुका होगा कि Web Development कितना ज्यादा जरूरी है, और भविष्य में इसका कितना ज्यादा करियर स्कोप होगा। अगर आप अपना एक बेहतरीन करीयर सेट करना चाहते है तो आप वेब डेवलपमेंट को जरूर चुने।

भविष्य में वेब डेवलपमेंट की बहुत ज्यादा मांग होने वाली है, हालांकि इसकी मांग अभी भी काफी अच्छी है। मतलब अगर आप वेब डेवलपमेंट सिखते है तो आपके पास पैसे कमाने के अनेक तरीके हैं। उम्मीद है कि Web Development Kya Hai, से संबंधित उपरोक्त सभी जानकारियां आपके लिए उपयोगी रही होगी।

2 thoughts on “वेब डेवलपमेंट क्या है – प्रकार, कोर्स और वेब डिजाइनिंग”

Leave a Comment