JAVA क्या है कैसे सिखे – What is Java in Hindi

आपको अगर कोडिंग पसंद है तो आपने Java का नाम अवश्य सुना होगा। और Java का नाम सुनकर आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि जावा क्या है (What is Java Language in Hindi) और JAVA कैसे सिखे ? मैं आपको इस लेख में आसानी से JAVA लैंग्वेज कैसे सीखें, के बारे पूरी जानकारी दूंगा।

Java Program Language सिखने का शौक बहुत से लोगों का होता है, और आपको भी JAVA लैंग्वेज सिखने का जरूर शौक होगा। वैसे देखा जाए तो आज के समय में Programming Language की डिमांड बहुत ज्यादा है, क्योंकि आने वाला समय कंप्यूटर का ही है।

अगर आप आने वाले समय में बहुत सारे पैसे कमाना चाहते है तो आप Java अवश्य सिखे। क्योंकि Java Programing का मार्केट बहुत बड़ा है, मतलब देखा जाए तो अभी के समय में करीबन 3 बिलियन से अधिक Electronic Device में java Code का इस्तेमाल होता हैं।

अगर आप Java Coding सिख लेते है तो आपके पास 3 मिलियन डिवाइस को सही करने का बिज़नेस मिल जाएगा। जावा प्रोग्रामिंग सिखने के बाद आप अपना बहुत अच्छा करीयर बना सकते है। लेकिन जावा क्या होता है, और Java Programming Language कैसे सीखें ? तो चलिए इससे संबंधित कुछ और अधिक जानकारी समझते हैं।

जावा क्या है हिंदी में (Java in Hindi)

जावा एक सामान्य उद्देश्य वाली Programming Language है, जिसका इस्तेमाल Website, Software और Application बनाने में किया जाता है। जावा एक High Level की प्रोग्रामिंग भाषा है, जिसे सन् 1995 में “Sun-Micro System” ने शुरू किया था।

Java Language के प्रमुख Developer में से एक व्यक्ति James Gosling थे, जिन्होने Platform Independent Language को बनाया था। इसमें लिखे गये कोड को आप किसी भी Operating System (OS) पर चला सकते है।

जावा कोड्स English भाषा में ही लिखे जाते है, मतलब जावा भाषा में Numeric Codes का बिल्कुल इस्तेमाल नही होता है। इन लिखे हुए Codes को कोई भी बड़ी आसानी से समझ सकता है, इसलिए इसे High Level Language में शामिल किया गया है।

Java Language में C++ Language के Fundamental का इस्तेमाल किया गया है, और यह Oops के Concepts को फॉलो करती है। एक और बात की जावा प्रोग्राम को लिखने के लिए कुछ नियम को फॉलो करना पड़ता है जिसे Syntax बोलते है।

अगर कोई Syntax के बिना प्रोग्राम लिखने की कोशिश करता है तो Error निकलकर आएगा। जैसे- अगर हम English भाषा को लिखते है और अगर लिखते समय नियमों को फॉलो न करे तो वाक्य के अर्थ का अनर्थ हो जाता है। इसी तरह जावा प्रोग्राम लिखने के लिए Syntax Rules फॉलो करना जरूरी है।

Java Language का उपयोग अनेक तरह के डिवाइस को बनाने में किया जाता है, जैसे- मोबाइल, स्मार्ट टीवी, AC, ऑवन, Digital Fridge इत्यादि। इसके अलावा इसका इस्तेमाल Automated Industries के Equipment में अलग-अलग तरह के Parts को Programmed करने में भी किया जाता है। इसका उपयोग Android Programming को सिखने में भी किया जाता है।

Java क्यों बनाया (Intent)

पहले के समय में सभी प्रोग्रामिंग भाषा Procedural Structure को फॉलो करते थे। लेकिन वर्तमान में Object Oriented Concept आया जिसने पूरे Programing Industry को बदलकर रख दिया। आज के समय में भी सभी Programming Language Object Oriented concept को फॉलो करती है।

वर्तमान में Object Oriented Concept आधारित Programming Language से ही सभी Internet Application बनाई गयी है। चाहे वह Online Video/ image Editing Apps हो या फिर Online Convert Apps हो जैसे Word to PDF, ZIP, RAR file इत्यादि।

आज Java की मदद से ही हम Online Form भर सकते है और Online Calculator का उपयोग कर सकते है। जावा इंटरनेट में दुसरे Web Based Language के साथ मिलकर काम करता है। इससे यह स्पष्ट होता है कि Java Internet Application और Tool Develop करने के लिए बनाया गया है। जावा बड़ी आसानी से Internet पर Execute हो जाता है। इसके अलावा जावा में प्रोग्राम लिखना भी बहुत आसान है।

आप Java Script, Java Server Page (JSP) और Java की मदद से एक शानदार Web Application बना सकते है। आप Java Applets का इस्तेमाल वेब में आसानी से कर सकते है। इसकी मदद से आप ऑफलाइन प्रोग्राम भी लिख सकते है जो बिना इंटरनेट के चल सकते है। अत: जावा सिखना बहुत अच्छा और जरूरी है।

Java के उपयोग क्या हैं (Use of Java in Hindi)

मैने आपको अभी बताया था कि वर्तमान में 3 बिलियन से भी अधिक डिवाइस में जावा का उपयोग किया जाता है। यह अत्यंत खास Programming Language है, जिसका इस्तेमाल IT Industry मे बहुत ज्यादा होता हैं। जैसे-

  1. JSP– JSP एक Web Technology है, जिसका इस्तेमाल Web Application बनाने में किया जाता है। इसकी मदद से जावा कोड को HTML Document में डाला जा सकता है। और जावा कोड को HTML Tag में डालने के लिए JSP Tag का इस्तेमाल किया जाता है, जिसकी मदद से Dynamic Web Pages बनाए जाते हैं। इसके अलावा Phpमें भी जावा का उपयोग होता है।
  2. Mobile – मोबाइल डिवाइस में जावा का बहुत ज्यादा योगदान है। वर्तमान में पूरी Mobile Industries इसी जावा टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रही है। इसके अलावा Game Industries भी जावा टेक्नोलोजी के कारण पूरी तरह से बदल गयी।
  3. JavaBeans – यह Visual Basic जैसा है, जिसकी मदद से Advanced Application बनाये जाते है। इसकी मदद से आप बहुत सारे Objects को एक Object में रख सकते है, जिसे Bean कहते है।
  4. Java 2 Enterprise Edition (J2EE)– यह एक Platform Independent Environment है जिसकी मदद से Web Based Enterprise Application बना सकते है। अनेक कंपनीयां XML Based Structured Data को आप में शेयर करने के लिए J2EE से बने Web Application का इस्तेमाल करते है।
  5. Applets– यह एक तरह का फुल जावा प्रोग्राम है जिसको Web Page में जोड़ा जा सकता है। इससे वेब ब्राउजर में नये फिचर्स देने को मिलते हैं। ये Applets HTML के अंदर ही पाये जाते हैं। उदाहरण: कुछ ऑनलाइन गेम।

जावा का कहां-कहां उपयोग होता हैं

  • Mobile Applications
  • Business Applications
  • Desktop GUI Applications
  • Gaming Applications
  • Enterprise Applications
  • Cloud-Based Applications
  • Big Data Technologies
  • Distributed Applications
  • Web-Based Applications
  • Scientific Applications

Java की खोज़ किसने की थी (Discovery)

आपके मन में यह सवाल तो जरूर आया होगा कि इतनी शानदार Programming Languageको किसने खोजा होगा? वैसे तो Java Programming को किसी एक ने डेवलप नही किया था। लेकिन जावा के प्रमुख डेवलपर्स में से एक डेवलपर “James Gosling” है।

James Goslingने जून 1991 में एक “Oak” नाम के प्रोजेक्ट के रूप में Java की शुरूआत की थी। इसे सबसे पहले Public Implementation 1995 में Java 1.0 माना गया था, जिसका उद्देश्य लोकप्रिय प्लेटफॉर्म पर “Write Once, Run Anywhere” था।

इसके बाद कुछ Major Web Browsersने इसे बहुत ही जल्दी एक सुरक्षित “Applet” Configuration के रूप में अपने Standard Configurationमें जोड़ दिया। इस तरह James Gosling (Java Investor) एक सबसे बड़े Java Developer थे, जिन्होने ये जबरदस्त Programming Language बनायी थी।

चलिए अब हम Java की हिस्टोरी के बारे में समझने की कोशिश करते है।

Java की History in Hindi

Java KaItihasमजेदार है और ज्यादा पुराना नही भी है, क्योकि जावा को 1995 में Sun Microsystems नामक कंपनी ने डेवलप किया था। जो की एक Programming Language है।

जावा की शुरूआत Green Team ने की थी, जिसका उद्देश्य केवल एक ही था कि एक ऐसी प्रोग्रामिंग भाषा बनाए जिससे Electronics Devices जैसे Television, Mobile, Remote इत्यादि को प्रोग्राम किया जा सके।

उस समय बहुत बड़ी सोच थी, लेकिन यह सोच आगे चलकर Internet के लिए ज्यादा मददगार साबित हुई। और फिर कुछ समय बाद जावा NetScape (Coffee की कंपनी) के साथ यह टेक्नोलॉजी मिल गयी।

Java की शुरूआत James Gosling ने अपने साथीयों के साथ मिलकर की थी। इस प्रोजेक्ट को सफल बनाने के लिए Sun Microsystems ने C++ भाषा के साथ Operating System Built Up करने की योजना बनाई, लेकिन इससे James Gosling संतुष्ट नही थे।

इसके बाद James Goslingने से स्वयं की एक Programming Language बनाई, और इसी प्रोग्रामिंग भाषा का नाम Oak रखा गया था। Oak नाम इसलिए रखा गया क्योंकि जब Gosling अपनी ऑफिस तो उनकी ऑफिस की खिड़की से दिखने वाला पेड़ Oak था। उसी पेड़ को देखकर उन्होने अपनी प्रोग्रामिंग भाषा को Oak नाम दिया।

यह Oak Programming Language C++ भाषा के Syntax पर आधारित थी, लेकिन Oak भाषा C++ भाषा से काफी सरल, अधिक स्थायी और बेहतर नेटवर्क सर्पोर्टिव प्रोग्रामिंग भाषा थी।

इसके बाद Oak भाषा का नाम बदलकर 1995 में Java रख दिया गया। Java नाम James Gosling के द्वारा सुझाए गए दो नाम Silk और JAVA में से एक था। Green Team ने अनेक नाम सुझाए थे लेकिन अंत में Java नाम को चुना जो काफी युनिक नाम था और यह नाम Technology को  Represent करने वाला था।

Java इंडोनेशिया का एक आइसलेंड का नाम है जहां सबसे पहले Coffee बनी थी। इस भाषा को Sun Microsystem में डेवलप किया गया और अब यह Oracle Corporation का एक पार्ट है। इसके प्रथम वर्जन JDK 1.0 को जनवरी 1996 में Release किया गया था।

Java Version Types (Java Version History in Hindi)

जावा का प्रथम वर्जन JDK Alpha and Beta को 1995 में रिलीज किया गया था। और इसके बाद समय-समय के साथ नये एडवांस Java Version को लॉंच किया गया। इस तरह यह भी Java का इतिहास है।

Java VersionRelease Date
JDK Alpha and Beta1995
JDK 1.0January 23, 1996
JDK 1.1February 19, 1997
J2SE 1.2December 8, 1998
J2SE 1.3May 8, 2000
J2SE 1.4February 6, 2002
J2SE 5.0September 30, 2004
Java SE 6December 11, 2006
Java SE 7July 28, 2011
Java SE 8March 18, 2014
Java SE 9September 21, 2017
Java SE 10March, 20, 2018
Java SE 11September 2018 (LTS)
Java SE 12March 2019
Java SE 13September 2019
Java SE 14March 2020
Java SE 15September 2020
Java SE 16March 2021

Java Applications के Types

अब तक हमने जाना की Java Kya Hai, और Java का इतिहास क्या है ? चलिए अब हमें Java Application के प्रकार देखते हैं। जो की निम्नलिखित हैं-

#1. Web Application

वर्तमान में Web application को Servlet, JSP, Strut, JSF इन सभी के इस्तेमाल के द्वारा बनाया जाता है। Web application का मतलब Server Side Web application डेवलप करने के लिए है।

#2. Standalone Application

यह Desktop Application और Mobile Application है। इनका इस्तेमाल हम रोजाना करते हैं, जैसे- MS-Office, Browsers, Media Player, AWT, Antivirus, MS Word, Editing Software इत्यादि।

#3. Enterprise Application

बहुत सारे Enterprise Application बनाने के लिए जावा प्रोग्राम भाषा ही एकमात्र तरीका है। यह एप्लिकेशन High Level Security प्रदान करता है, जिससे इसका इस्तेमाल Banking Software, Accounting Application, Industry Application में होता है। और इन सभी Enterprise Application बनाने के लिए Enterprise Java Bean (EJB) का इस्तेमाल किया जाता है।

#4. Mobile Application

इसे आप Mobile App के रूप में तो जानते ही होंगे, मतलब मोबाइल में जितने भी Game App और अन्य App चलाये जाते है, वो सभी इसी भाषा का इस्तेमाल करते है। Google Playstoreपर जितने भी Apps हैं, वे सभी इसी java Programming Language से बनाए गए हैं।

Features of Java in Hindi (Specifications)

Java एक बहुत ही जबरदस्त और बहुत ज्यादा उपयोगी Programming Language है, इसलिए इसके Features यानी विशेषताएँ भी बहुत सारी हैं। जैसे-

#1. Simple language

जावा प्रोग्रामिंग भाषा को आसानी से समझ सकते है और आसानी से लिख भी सकते है, इसलिए इसे Simple बोला जाता है। अगर आप Oops के Basic Concept को सिख लेते है तो जावा में आप मास्टर बन सकते है।

#2. Secure Programming Language

जावा अन्य प्रोग्रामिंग भाषा की तुलना में बहुत ही अधिक सुरक्षित और सरल है। इस भाषा में सभी कोड Compile होने के बाद Bitecodeमें बदल जाते है। और इसी यह काफी सुरक्षित भाषा है।

यह भाषा Virus Free, Tamper Free System Software डेवलप करने मे काफी उपयोगी है। इस भाषा में Authentication Techniqueमें Public key Encryption का इस्तेमाल किया जाता है।

#3. Platform Independent Programming Language

जावा एक Platform Independent प्रोग्रामिंग भाषा है, जो किसी भी Hardware या किसी Operation System से बंधा हुआ नही है। इसका मतलब यह हुआ कि Java का उपयोग सॉफ्टवेयर में बिना किसी बदलाव के कई दूसरे Operation System (जैसे- Linux या Macintosh) में भी कर सकते है।

#4. सभी OS में उपयोगी

जावा के सभी कोड Compiler होने के कारण ये कोड Byte Code में बदल जाते है। और इन Byte code का इस्तेमाल किसी भी Operating system और Processor में Run करा सकते है। इसलिए जावा को Architectural Neutral के रूप में भी जाना जाता है।

#5. Portable Language

Java Platform Independent होने के कारण बहुत ही ज्यादा Portable होता है। और इसके Portable गुण के कारण Java काफी ज्यादा लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा है।

#6. Robust feature

जावा प्रोग्रामिंग भाषा में लिखे गए सभी प्रोग्राम काफी मजबूत होते है, मतलब यह प्रोग्राम Run करने पर कोई Error नही दिखाते हैं। क्योंकि यह जावा Compile time और Run Time Error checking mechanism का इस्तेमाल करता है।

#7. एक से ज्यादा Task

जावा की मदद से ऐसे प्रोग्राम लिखे जा सकते है जो Multiple Task को Run कर सकते हैं। कहने का मतलब है कि एक ही एप्लिकेशन होगी, लेकिन उस एप्लिकेशन से बहुत सारे काम कर सकते हैं।

#8. Fast Programming language

Java एक बहुत फास्ट प्रोग्रामिंग भाषा है, लेकिन Compiled Language जैसे C++ से थोड़ा धीरे है। हालांकि हम जावा को slow नही बोल सकते है क्योंकि अन्य प्रोग्रामिंग भाषा काफी fast है।

#9. Software बना सकते है

Java के उपयोग से आप Distributed Software बना सकते है, मतलब ऐसे सॉफ्टवेयर जो किसी भी नेटवर्क से जुड़कर अलग-अलग कंप्यूटर पर काम कर सकता है।

#10. Dynamic programming Language

java C और C++ प्रोग्रामिंग भाषा से भी ज्यादा Dynamic Programming Language हैं। जावा के इस गुण के कारण यह किसी भी Environment में Adapt हो सकती है।

Java Program कैसे काम करता है (Run and Execute Process)

यह मैं आपको पहले ही बता चुका हूं कि Java एक प्रोग्रामिंग भाषा है, जिससे प्रोग्राम को डेवलप किया जाता है। जब आप  किसी प्रोग्राम को Compile करते है तब प्रोग्राम पूरी तरह से Machine Language में नही बदलता है बल्कि एक Intermediate Language में बदता है जिसे java Bitcodesकहते हैं।

इस Bitecodes को आप किसी भी Operating System (OS) व किसी भी Processor पर चला सकते है। ध्यान दे कि जावा की Compilation सिर्फ एक बार होती है लेकिन जब Java Program चलाया जाता है तो प्रोग्राम का Interpretation होता है।

एक और खास बात की Java Bitecodes को Java Virtual Machine (JVM) का Machine Code कहते है। जावा का इस्तेमाल JVM बहुत जरूरी है, और यह JVM आज के समय में सभी OS में पाया जाता है।

Java Virtual Machine (JVM) क्या है

JVM एक Virtual Computer है जो सारे जावा प्रोग्राम को Run करता है। जब जावा की मदद से किसी प्रोग्राम को लिखा जाता है तो Source Code को Java Compiler की मदद से Compile करके Bitecode Generate किया जाता है।

अब इस Bitecodeको Execute करने के लिए JVM का इस्तेमाल होता है, क्योंकि JVM में Java Interpreter होता है जो प्रोग्राम को Run करता है। जिन कंप्यूटर में में जावा प्रोग्राम को Run किया जाता है, उन सभी कंप्यूटर के OS में JVM मौजुद होता है। इस तरह जावा काम करता है।

Java Platform independent Feature

Platform independent का मतलब है कि जावा प्रोग्रामिंग भाषा प्लेटफॉर्म पर depend नही करती है। मतलब जब कोई जावा प्रोग्राम लिखते है या कोई सॉफ्टवेयर बनाते है तो वह सॉफ्टवेयर सभी Platforms यानी सभी Operating System (Windows, Linux, Mac, Android etc.) पर चलते हैं।

इसलिए जावा प्रोग्राम Platform Independent होते हैं, हालांकि कुछ प्रोग्राम केवल एक ही कंप्यूर और OS पर चलते है, जिन्हे Platform Dependent Programकहते है। लेकिन जावा एक ऐसी प्रोग्रामिंग भाषा है जो सभी OS पर चलती है, मतलब “Write Once Run Any Where“।

Java Technology में New Update

समय के साथ-साथ Java Technology में Different Editions किये गये, जो निम्नलिखित हैं-

Java Standard Edition (Java SE)

Java Standard Edition की मदद से लिखे गये जावा प्रोग्राम सभी Operating System पर चलते हैं,जैसे-linux, Windows, Mac, Android etc.।Java SEयूजर को वह सभी Tools और API प्रदान करता है, जिसकी मदद से Server Application, Desktop Application और Applets Programs बनाये जाते हैं।

Java Micro Edition (JME)

यह APIs का ग्रुप होता है, जिसका इस्तेमाल Mobile App, TV Set-Top Box Software, PDAs, Gaming App/ Software डेवलप करने में किया जाता है। JME का इंटनरफेस काफी यूजर फ्रेंडली होता है, और साथ ही यह काफी भरोसेमंद होता है।

Java Enterprise Edition (JEE)

JEE Web Application Services, Component Model और Service Oriented Architecture (SOA) के लिए उपयोगी है।

Java Editors for Java Program Writing

अब तक हमने जाना कि Java क्या है और जावा कैसे कमा करता है? अब आप जावा प्रोग्रामिंग भाषा को जरूर सिखना चाहेंगे। जावा भाषा सिखने के लिए आपको Java In Hindi Full Course से पढ़ाई करनी होगी, जिसकी जानकारी हम आपको देंगे।

अगर आप Java Program को लिखना चाहते है तो इसके लिए आपको Java Software Development Kit को डाउनलोड करना होगी।

किसी भी जावा प्रोग्राम को लिखने के लिए Editors की जरूरत पड़ती है  और इसके लिए आप निम्लिखित Editors का इस्तेमाल कर सकते है।

Notepad++ : यह एक Editor Software है जिसमें आप Code लिख सकते है। यहां पर आप आसानी से Error और Missing Bracket को खोज सकते हैं।

Netbeans : नेटबिन्स Java IDE एक Open Source है जिसे आप फ्री में इस्तेमला कर सकते है। इसे आप लिंक पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते हैं- क्लिक करें।

Eclipse: ईक्लिप्स भी Java IDE है जिसे आप लिंक पर क्लिक करके डाउनलोड कर सकते हैं- क्लिक करें।

Java कैसे सीखे?

आज के समय में जावा प्रोग्रामिंग भाषा की काफी डिमांड है, क्योंकि अब इंटरनेट सभी जगह फैल चुका है। लोग अपने बिज़नेस को ऑनलाइन लाने की कोशिश कर रहे है और इसके लिए वे जावा प्रोग्रामिंग में एक्सपर्ट व्यक्ति की काफी डिमांड करते है।

अगर आपको Java Programming के Fundamentals के बारे कुछ भी ज्ञान है तो आपको java अवश्य सीखनी चाहिए। क्योंकि भविष्य में भी इस Field में काफी ज्यादा बेहतरीन करीयर के विकल्प है। अगर आप जावा प्रोग्रामिंग भाषा में एक्सपर्ट बन जाते हैं तो बड़ी-बड़ी कंपनीयों के लिए काम कर सकते है और लाखों रूपयें बड़ी आासनी से कमा सकते हों।

जावा प्रोग्रामिंग भाषा आप यूट्यूब पर अनेक Videos series से आसानी से सिख सकते हैं। मैने यहां पर कुछ Tutorial Site दी है, जहां से आप Java सिख सकते है।

  1. Codecademy
  2. Udemy
  3. w3school
  4. Youtube tutorials

Java Programming Language कैसे सिखें

जावा प्रोग्रामिंग भाषा को सिखने के लिए निम्न स्टेप से पढ़ाई करें।

1. टाइम का शेड्यूल बनाए

जावा प्रोग्रामिंग भाषा को सिखने के लिए सबसे पहले आपको अपने टाइम का एक सही शेड्यूल बनाना होगा। और आपको समय भी ऐसा चुनना है जिसमें आपको कम से कम डिस्ट्रकशन हो। इसके अलावा आपको Self-discipline से शेड्यूल को फॉलो करना होगा।

क्योंकि Java में कोडिंग सिखना इतना आसान नही है, इसमें काफी लगन की जरूरत होती है।

2. Java के Fundamentals सिखे

जावा को सिखने से पहले आपको बेसिक से शुरूआत करनी होगी, मतलब आपको Basic Fundamentals सिखने होंगे। Basic सिखने के लिए आप वेबसाइट या यूट्यूब चैनल से शुरूआत कर सकते है।

3. Java की अधिक जानकारी ले

जब आप बेसिक नॉलेज को कवर कर लेते है तो उसके बाद आपको अलग-अलग टॉपिक पर ज्यादा और लगातार बेस पर पढ़ाई करनी है, ताकि आप प्रोग्रामिंग लेंग्वेज को आसानी से Explore कर सके। ऐसा करने से नॉलेज के साथ-साथ इंटरेस्ट भी बढ़ेगा।

4. Coding Practise करे

अब आपको कोडिंग करने की प्रेक्टिस करनी है और यह प्रेक्टिस लगातार करनी होगी। क्योंकि प्रोग्रामिंग सिखने के लिए केवल पढ़ाई की जरूरत नही होती है बल्कि अधिक प्रेक्टिंस की भी जरूरत होती है।

आपको धीरे-धीरे आपको अपनी प्रेक्टिस बढ़ानी है, मतलब आपको 80% प्रेक्टिस करनी है तो 20% Theory को देना है।

5. Small Program लिखना शुरू करे

अब आपको Java का Basic अच्छे से समझ आ जाए तो आपको छोटी-छोटी बेसिक जावा प्रोग्राम को लिखना शुरू करना है। शुरूआत में आपको बहुत कठिन लगेगा, लेकिन धीरे-धीरे लगातार मेहनत से यह Difficultyकम हो जाएगा। इसके बाद आप आसानी से जावा प्रोग्राम लिख सकते है।

6. ग्रुप में पढ़ाई करे

आपको जावा प्रोग्रामिंग भाषा सिखते समय कोडिंग में काफी प्रॉब्लम आएगी, तब आप अपनी समस्या को यूट्यूब पर या किसी कोडिंग ग्रुप में पूंछ सकते है। आपको टेलीग्राम, फेसबुक और वॉट्सअप ग्रूप मिल जाएंगे जहां आप अपने प्रोब्लमस पूछ सकते हैं।

7. धैर्य अवश्य रखे

दुनिया में कोई काम मुश्किल नही है। अगर लगातार मेहनत और कठिन परिश्रम किया जाए तो हर काम को सिखा जा सकता है। आपको भी कोडिंग सिखने के लिए धैर्य रखना होगा, और हार बिल्कुल भी नही माननी है।

जावा लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा क्यों है

जावा प्रोग्रामिंग भाषा को सबसे लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा माना जाता है क्योंकि यह Platform independent Language है। मतलब जावा द्वारा लिखा गया प्रोग्राम सभी OS पर Run कर सकता है। इसके अलावा इसे लिखना भी अन्य की तुलना में आसान है।

Java की डिमांड वर्तमान बहुत ज्यादा है और भविष्य में भी इसकी डिमांड सबसे ज्यादा होगी। आज के समय में जावा से बने प्रोग्राम का इस्तेमाल 3 बिलियन से अधिक ईलेक्ट्रोनिक डिवाइस में उपयोग किया जा रहा हैं।

FAQs – What is Java in Hindi

इस लेख में हमने जाना कि Java KyaHai और जावा कैसे सिखें? चलिए अब हम Java Program Structure In Hindi से संबंधित FAQs देखते हैं।

Java Full Form क्या है?

अभी तक जावा का कोई भी Full Form नही बताया गया है। यह नाम James Gosling ने रखा था। एक और बात बता दूं कि Java इंडोनेशिया का एक आइसलेंड का नाम है।

जावा को किसने बनाया था?

उत्तर: जावा को James Gosling और उनके साथीयों ने मिलकर बनाया था, और इस टीम को Green Team के नाम से जाना जाता था। एक और बात कि जावा को Sun MicroSystem Company में 1995 में डेवलप किया गया था।

निष्कर्ष

इस लेख में मेने JAVA क्या है और JAVA कैसे सिखे, से संबंधित सभी जानकारीयां दी हैं। इस जानकारी की मदद से आप जावा के बारे में अच्छी खासी जानकारी प्राप्त कर सकते है और जावा को सिख भी सकते है। आप जावा फ्री कोर्स से सिख सकते है और Paid course से भी सकते हैं। फ्री में जावा सिखने के लिए हमने यहां पर आपको पूरी जानकारी दी हैं, इस लेख को सोशल मीडिया जैसे Facebook, Twitter, linkdin इत्यादि पर भी शेयर कीजिए।

Leave a Comment