डिजिटल इंडिया क्या हैं ? इसके लाभ और हानि (2023)

नमस्ते! दोस्तों डिजिटल इंडिया को लेकर हर किसी के मन मे यह सवाल आता हैं की डिजिटल इंडिया क्या हैं? तो हमने भी सोचा की क्यों न की इस पर एक विस्तारपूर्ण जानकारी के साथ एक पोस्ट लिखा जाएं, इस लेख मे हमने डिजिटल इंडिया से संबंधित समस्त जानकारी विस्तार से साझा करने की कोशिश की।

आपको बता दे की डिजिटल इंडिया को समझने से पहले हमे डिजिटल का मतलब क्या होता हैं? इसे समझना बेहद जरूरी हैं। इसको समझना थोड़ा सा मुश्किल हैं क्योंकि अभी तक इसका सटीक परिभाषा नहीं हैं लेकिन इसे आसान भाषा मे समझे तों जिस तरह Physical वस्तुएं होती हैं जैसे फर्नीचर्स, कपड़े, नोट यह सब एक Physical वस्तुएं हैं जिसे हम Physical तौर पर उपयोग कर सकते हैं।

कुछ उसी तरह डिजिटल वस्तुएं होती हैं जिसे हम अंकीय (Digit) के माध्यम से Digitally Access करते हैं जैसे डिजिटल करन्सी (बिटकॉइन), DSLR, डिजिटल घड़ी यह सब डिजिटल के उदाहरण हैं, यह एक प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक पद्धति होती हैं। तो अब शायद आप डिजिटल शब्द को समझ चुके होंगे।

तो चलिए अब यह जानते हैं की डिजिटल इंडिया क्या हैं, डिजिटल इंडिया के लाभ और हानी, डिजिटल इंडिया की शुरुआत कैसे हुई इन सभी के बारे मे और इस टेक्नोलॉजी की दुनिया के बारे मे कुछ नया सीखते हैं।

डिजिटल इंडिया की शुरुआत कैसे हुई?

डिजिटल इंडिया क्या हैं यह जानने से पहले हमें डिजिटल इंडिया की शुरुआत कब हुई यह जानना बेहद ही आवश्यक हैं, तभी हम डिजिटल इंडिया को समझ पाएंगे। एक कार्यक्रम के दौरान हमारे देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी ने 1 जुलाई 2015 मे लोगों को इसके बारे मे अवगत कराया और इस तरह डिजिटल इंडिया कि शुरुआत 1 जुलाई 2015 मे हुई।

डिजिटल इंडिया क्या हैं?

यह एक प्रकार का फ्लैग्शिप प्रोग्राम हैं जिसके तहत भारत को डिजिटल बनाने प्रयत्न किया जा रहा हैं, इस डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का उद्देश्य इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल साधनों के बारे मे भारत के हर एक लोगों को अवगत करवाना और भारत को डिजिटल क्षेत्र मे मजबूत बनाना हैं, इस प्रोग्राम के तहत भारत के हर एक क्षेत्र लोग को इंटरनेट के साथ जोड़ना हैं।

इस प्रोग्राम के तहत अलग अलग ग्रामीण क्षेत्रों मे अलग अलग प्रकार के डिजिटल सुविधाएं उपलब्ध कारवाई गई, जिसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी डिजिटल सुविधाओ के बारे मे समझ रहे हैं और अधिक से अधिक डिजिटल सुविधाओ का उपयोग कर रहे हैं, जिससे भ्रष्टाचार होने की संभावना कम हो रही हैं, कागज का प्रयोग कम हो रहा हैं और इससे ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी डिजिटल सुविधाओ के बारे मे जान रहे हैं।

यह भारत का आज तक का सबसे प्रभावी प्रोग्राम मे से एक हैं, इसके तहत भारत का हर एक नागरिक अब डिजिटल सुविधाओ के बारे मे जान रहा हैं और उस सुविधा का उपयोग भी कर रहा हैं जैसे आज के समय मे ग्रामीण क्षेत्र के कम पढ़ें लिखे लोग भी मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं व डिजिटल आइडी प्रूफ के बारे मे भी जान रहे हैं।

डिजिटल इंडिया के उद्देश्य क्या हैं?

इस योजना के तहत भारत को डिजिटल क्षेत्र मे मजबूत बनाने की प्रक्रिया सफल रही है, डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के कुछ ऐसे मुख्य उद्देश्य नीचे लिखे हैं जिन पर अधिक जोर दिया गया हैं –

1. भारत का हर व्यक्ति मे डिजिटल सुविधाओ मे रुचि

डिजिटल इंडिया के समस्त मुख्य उद्देश्यो मे से यह एक प्रमुख उद्देश्य था, डिजिटल इंडिया के तहत भारत के हर पिछड़े और ग्रामीण क्षेत्र मे डिजिटल सुविधाये धीरे धीरे उपलब्ध कारवाई जा रही हैं जिससे कम पढ़ें लिखे लोग भी डिजिटल सुविधाओ के बारे मे जान और समझ रहे हैं, जिससे हमारा देश धीरे धीरे डिजिटल क्षेत्र मे मजबूत हो रहा हैं जिसकी वजह से हमारा देश प्रग्रती की ओर अग्रसर हो रही हैं।

2. ग्रामीण क्षेत्रों मे इंटरनेट उपलब्ध करवाना

आज भी ऐसे बहुत सारे ग्रामीण क्षेत्र हैं जहां पर हाई स्पीड इंटरनेट उपलब्ध नहीं हैं, इस डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत ऐसे ग्रामीण इलाकों मे जहां पर इंटरनेट उपलब्ध नहीं हैं वहाँ पर बेहतर स्पीड का इंटरनेट कनेक्शन स्थापित करना भी हैं, इस डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के वजह से बहुत सारे इलाकों आज इंटरनेट उपलब्ध हो रहा हैं।

3. आईटी रोजगार उपलब्ध करवाना

इस डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत बहुत सारे ग्रामीण इलाकों मे E – Mitra, CSC center, E kranti जैसे सुविधाएं उपलब्ध कराई गई जिससे सभी तरह के सरकारी काम जैसे बैंक से लेनदेन करना, आधार कार्ड, पेन कार्ड बनवाना, ऑनलाइन फॉर्म इत्यादि कार्य ऑनलाइन होने लगे जिससे वर्तमान मे बहुत सारे आईटी रोजगार मे बढ़ोतरी हुई हैं।

ग्रामीण क्षेत्र मे भी CSC center के दुकाने खुल रहे हैं जिससे यह अंदाजा लगा सकते हैं वाकई मे आईटी रोजगार मे बढ़ोतरी हुई हैं।

4. देश और खुद के प्रति जागरुक्ता लाना

देश मे क्या चल रहा हैं यह जानने के लिए हमें अखबार को पढ़ने की आवश्यकता पड़ती हैं, लेकिन अखबार मे पूरी जानकारी नहीं होती हैं व सरकार योजनाओ के बारे मे जानकारी नहीं दी गई होती हैं। लेकिन इस डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत सभी ग्रामीण क्षेत्र मे इंटरनेट और स्मार्टफोन कि सुविधा उपलब्ध हो रहा है।

जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी इंटरनेट की सहायता से देश दुनिया मे चल रहे सभी तरह के गतिविधियों के बारे मे जानकारी हासिल कर पा रहे हैं, जिससे वाकई मे ग्रामीण क्षेत्रों मे भी जागरूकता देखने को मिल रही हैं।

5. मोबाइल बैंकिंग को लोगों तक पहुंचाना

डिजिटल इंडिया के तहत जब लोगों को हाई स्पीड इंटरनेट प्राप्त हो रहा हैं जिससे अब हर व्यक्ति स्मार्टफोन का उपयोग कर रहा हैं जिससे मोबाइल बैंकिंग के बारे मे जानकारी प्राप्त कर रहे हैं और ऑनलाइन मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल कर रहे हैं जिससे डिजिटल करेंसी को बढ़ावा मिल रहा हैं।

डिजिटल इंडिया के लाभ

वाकई मे अगर हम देखे तो डिजिटल इंडिया के तहत हमारे देश को और देश के नागरिक को विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्त हो रहे हैं जो की निम्नलिखित हैं –

  • अक्सर ग्रामीण क्षेत्रों मे लोगों को जानकारी नहीं होने के कारण भ्रष्टाचार बहुत ही अधिक होता रहता हैं, लेकिन डिजिटल इंडिया के तहत समस्त कार्य ऑनलाइन हो जाने के कारण भ्रष्टाचार मे कमी होगी।
  • अक्सर जब भी ग्रामीण क्षेत्र मे सरकारी कार्य की लाइन बहुत ही लंबी होती हैं जिसकी वजह से लोगों को बहुत ही अधिक समय खराब होता हैं लेकिन डिजिटल इंडिया के तहत हम कहीं पर भी सरकारी कार्य को ऑनलाइन कर सकते हैं जिससे इस सरकारी कामों के लंबी लाइन से छुटकारा मिल रहा हैं।
  • ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों मे अक्सर कंप्युटर, इंटरनेट जैसे चीजों के बारे मे ज्ञान का अभाव ओट हैं लेकिन डिजिटल इंडिया के कारण अब ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थी के पास इंटरनेट उपलब्ध हैं जिससे वे इन चीजों के बारे मे सिख रहे हैं।
  • जब देश का हर नागरिक जागरूक और डिजिटल होगा तो इससे हमारा देश तेजी से विकसित होगा।
  • डिजिटल इंडिया के तहत मोबाइल बैंकिंग को बढ़ावा मिल रहा हैं जिससे लोगों को अब बैंक के लंबे कतार मे घंटों खड़े रहने की बिल्कुल जरूरत नहीं हैं।

अगर हम डिजिटल इंडिया के नुकसान की बात करे तो इसका कोई भी नुकसान नहीं हैं बल्कि इससे हमारा देश डिजिटल बन रहा हैं और तेजी से विकसित हो रहा हैं।

FAQ’s (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

डिजिटल इंडिया को लेकर काफी लोगों के मन मे काफी सारे सवाल है तो चलिए अब हम डिजिटल इंडिया से संबंधित उन्ही अक्सर पूछे जाने वाले सवालों के बारे मे जानते है –

डिजिटल इंडिया की शुरुआत कब हुई?

डिजिटल इंडिया की शुरुआत 1 जुलाई 2015 को हुई।

डिजिटल इंडिया का मुख्य उद्देश्य क्या है?

डिजिटल इंडिया का मुख्य उद्देश्य भारत को डिजिटल क्षेत्र मे सशक्त बनाना हैं।

क्या भारत डिजिटल इंडिया बन रहा है?

जी हाँ। डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के शुरुआत हुए 7 वर्ष से अधिक हो चुके हैं अब हर कोई मोबाइल बैंकिंग, ऑनलाइन, योजनाओ के बारे मे जानकारी रखता हैं इसको देखकर हम अब यह कह सकते हैं की अब भारत डिजिटल इंडिया बन रहा हैं।

Conclusion

उम्मीद हैं की आपने इस लेख को पूरा पढ़कर इस डिजिटल इंडिया के बारे मे बहुत कुछ सिखा होगा और यह जान लिया होगा की डिजिटल इंडिया क्या हैं (What is Digital India In hindi) अगर आपके मन मे अभी भी डिजिटल इंडिया और इस इंटरनेट से सबंधित कोई भी सवाल हैं तो उसे नीचे Comment मे लिखकर जरूर बताएं।

इस लेख को Twitter, Facebook, Linkdin जैसे प्रसिद्ध सोशल मीडिया पर शेयर कीजिए और यह लेख आपको कैसा लगा यह भी हमें नीचे Comment मे लिखकर अवश्य बताइये।

1 thought on “डिजिटल इंडिया क्या हैं ? इसके लाभ और हानि (2023)”

Leave a Comment