रोबोट क्या है? और कैसे यह दुनिया बदलने वाला है

रोबोट क्या है? (What is Robot in Hindi), भारत में रोबोट है क्या, भारत का पहला मानवीय रोबोट कौन सा है, रोबोट कैसे काम करता है, और रोबोट कैसे यह दुनिया बदलने वाला है इत्यादि सवाल सिर्फ एक रोबोट शब्द से जुड़े है।

आज रोबोट पर अनेको बॉलीवुड और हॉलीवुड फिल्में बन चुकी हैं, जैसे- HUMAN ROBOTS, Finch, Alita: Battle Angel, Replicas, A-X-Lइत्यादि। मेरे कहने का मतलब है कि आपने अपनी जिंदगी में कई बार रोबोट शब्द सुना होगा, इसलिए आज आप जानना चाहते है कि रोबोट क्या है?

देखा जाए तो रोबोट क्या है, इसकी कोई सर्व स्वीकृत खास परिभाषा नही है। साधारण भाषा में इसे एक स्वचालित, स्वनिंयत्रित, बहुउद्देशीय मशीन कह सकते है, जिसमें कुछ हद तक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) का इस्तेमाल किया जा सकता है। आज अनेक देशों में रोबोट के अध्ययन के लिए Robotics शाखाएं मौजुद हैं, जिसमें रोबोट के डिजाइन, निर्माण एवं उसके अनुप्रयोगों पर अध्ययन किया जाता हैं।

वर्तमान में माना जा रहा है कि बहुत जल्द एक मानवीय बुद्धिमत्ता के साथ रोबोट को पेश किया जाएगा। इसलिए हमारा लेख रोबोट क्या है और कैसे यह दुनिया बदलने वाला है, टॉपिक पर आधारित है। इस लेख में हम रोबोट से जुड़े अनेक सवालों के जवाब प्राप्त करेंगे, जैसे- What is Robot in Hindi, रोबोट का इतिहास क्या है, रोबोट कैसे काम करता है, रोबोट के प्रकार क्या है, रोबोट के उपयोग और फायदे क्या है, क्या वर्तमान में मानवीय रोबोट है, इत्यादि।

Contents दिखाए

रोबोट क्या है व इसकी परिभाषा (What is Robot in Hindi)

रोबोट एक तरह की स्वचालित, स्वनियंत्रित, बहुउद्देशीय मशीन होती है, जैसे ATM मशीन, टीवी,फैक्ट्रीयों की मशीन, सिलाई मशीन इत्यादि। इसके अलावा अगर इन मशीनों को Artificial Intelligence के रूप में डिजाइन किया जाए तो एक मानवीय रोबोट तैयार किया जा सकता है।

देखा जाए तो स्वचालित रूप से चलने वाली मशीन को रोबोट कहा जा सकता है। आज हमारी जिंदगी अनेक तरह की मशीनों से जुड़ी हुई है, जो हमारी जरूरतो को पूरा करती है।

उदाहरण के लिए ऑटोमोबाइल कंपनी एक कार बनाने के लिए कई तरह की मशीनों का उपयोग करती है। इन कंपनीयों में सिर्फ कार के Body Parts को मशीनों में सेट किया जाता है और उसके बाद मशीने यानी रोबोट स्वयं कार्य करके Automatic कार बना देते है। इसमें बहुत कम व्यक्तियों की जरूरत पड़ती है।

रोबोट की परिभाषा

जैसा की मैने आपको बताया कि वर्तमान में रोबोट की कोई सर्वमान्य परिभाषा नही है, क्योंकि अनेकों इंजीनयर्स और समुदायों के बीच बहस चल रही है. कुछ लोगों का मानना है कि रोबोट सिर्फ मानव की तरह दिखाई देने वाली मशीन है, जबकि कुछ लोगो का मानना है कि स्वचालित, बहुउद्देशीय मशीन ही रोबोट है।

सामान्य भाषा में समझा जाए तो रोबोट एक मशीन है जो एक से अधिक साधारण और जटिल कार्यो को मनुष्यों की तुलना में अधिक तेजी से और सटीकता से पूरा करती है। वर्तमान में कार्य के आधार पर अनेक तरह के रोबोट हैं, जिनके बारे में हम इस लेख में अच्छे से जानेंगे।

रोबोट मैकेनिकल, सॉफ्टवेयर और इलेक्ट्रोनिक इंजीनियरिंग के मिश्रण से मिलकर बना हुआ होता है। आज कुछ रोबोट को External Control डिवाइस से निंयत्रित किया जाता है, जबकि कुछ डिवाइस Artificial Intelligence से स्वनियंत्रित कार्य करते है। रोबोट मनुष्य के समान ही दिखाई दे, ऐसा बिल्कुल भी जरूरी नही है।

रोबोट काम कैसे करता है

अब तक हम यह तो जान चुके होंगे कि रोबोट क्या है, लेकिन रोबोट काम कैसे करता है? यह जानना भी जरूरी है ताकि हम रोबोट को अच्छे से समझ सके।

हमने कंप्यूटर अवश्य देखा होगा, जिसमें विभिन्न पार्ट्स होते है, जैसे माउस, कीबोर्ड, मॉनीटर, CPU इत्यादि। इन सभी पार्ट्स की मदद से आप कंप्यूटर को चला सकते है। इसी तरह रोबोट भी अनेक अलग-अलग Parts की मदद से काम करता है।

आज अनेक तरह के रोबोट मौजुद हैं, जो विभिन्न टास्क को पूरा करते है। अलग-अलग टास्क को पूरा करने के लिए एक रोबोट में अनेक Parts लगे होते हैं, जैसे-

  1. Brain System,
  2. Muscles System,
  3. Structural Body,
  4. Power System,
  5. Sensor System,

इन सभी आधारभूत Parts की मदद से कोई भी रोबोट हरकत करता है। एक रोबोट में Motor, Sensor, Power source और computer Brain होते हैं, जो रोबोट बॉडी को नियंत्रित करते हैं। रोबोट को मनुष्य के द्वारा सॉफ्टवेयर की मदद से कुछ instruction दिये जाते है, जिसके अनुसार रोबोट कार्य करता है।

रोबोट के हर कार्य के लिए डिजिटल प्रोग्राम बनाया जाता है और उसे रोबोट में Fix किया जाता है। ध्यान दे कि सभी रोबोट में Sensor नही होते हैं, लेकिन कुछ कुछ रोबोट Sensor की मदद से सुनने, सुंघने की क्षमता रखते है।

रोबोट का इतिहास – दुनिया का पहला रोबोट

कई शताब्दी पहले के प्राचीन चीन, ग्रीस और मिस्र सभ्यताओं के अध्ययन से पता चला कि मनुष्य सैकड़ो-हजारों वर्षो पहले भी प्राचीन काल से ऐसी मशीने बनाने के बारे में सोच रहे थे जो स्वत:चालित हो। अत: रोबोट का इतिहास बहुत-बहुत पुराना है।

पिछले कई शताब्दियों से Robotics क्षैत्र में हमेशा कुछ न कुछ नया किया जाता रहा है। अगर आधुनिक Robotics की बात करे तो Advance Robotics का जनक ‘Joseph Frederick Engelberger‘ को माना जाता है। इन्होने 1950 में पहला Technical LabourRobotबनाया था, जिसका नाम ‘Unimate‘ था। यही दुनिया का पहला रोबोट था, हालांकि इससे पहले भी कई रोबोट बने थे लेकिन उनमें कई खामियाँ थीं।

रोबोट के उपयोग – Uses of Robot in Hindi

जैसा की मैने आपको बताया कि रोबोट बहुउद्देशीय प्रकार का होता है, जिसे कई तरह के कार्य के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। रोबोट या मशीनों का निर्माण भी अलग-अलग इस्तेमाल के आधार पर किया जाता है। जैसे-

#1. दैनिक जीवन उपयोगी रोबोट

हम दिनभर अनेकों मशीनों से अपना काम करवाते हैं, लेकिन हमे इनका अहसास नही होता है, जैसे ऑटोमेटिक खुलने वाले दरवाजे, टीवी, पानी की मोटर, लिफ्ट, Automatic Car Wash इत्यादि। यह दैनिक उपयोगी रोबोट होते हैं, जो स्वत: ही उर्जा से काम करते है।

#2.औद्योगिक रोबोट

दुनिया के सभी औद्योगिक क्षैत्रों में काफी समय से इनका उपयोग किया जा रहा है। सन् 1959 में George Devolने भी औद्योग कार्य को करने के लिए पहला मजदूर के समान ‘Unitmate‘ रोबोट बनाया था। आज सभी Industrial Area में रोबोट का ही इस्तेमाल होता हैं, जैसे कार निर्माण की कंपनी इत्यादि।

#3.आपदा प्रबंधन में रोबोट

रोबोट को खतरनाक और विषम परिस्थितियों में मानव बचाव के लिए भेजा जा सकता है, जैसे मलेशियन विमान MH-370 के दुर्घटनाग्रस्त होने पर ब्लैक बॉक्स की खोज के लिए Blue Fin-21 की रोबोटिक पनडुब्बीको भेजा था। हैदराबाद की साइंस सोसाइटी के वैज्ञानिक ने एक ऐसा रोबोट बनाया जिसका इस्तेमाल भूकंप के मलबे में फसे लोगो को बचाने में किया गया।

#4.चिकित्सीय रोबोट

आज चिकित्सा के क्षैत्र में भी रोबोट यानी स्वचालित मशीनों का उपयोग किया जा रहा है। ये रोबोट हॉस्पीटल में डिलीवरी, सर्जरी और अन्य इलाज में काफी उपयोगी होते है। मानव इलाज में काफी सटीकता, स्पीड और अतिरिक्त उर्जा की जरूरत होती है, जो रोबोट में पायी जाती है।

  • Robotic Orthotics
  • Robotic Surgery
  • Robotic Nurse
  • Micro Robotic

#5.कृषि क्षेत्र में रोबोट

कृषि हमारे देश की शान है, जिसे और अधिक विकसित करने के लिए आजकई रोबोट का इस्तेमाल किया जाता है। जैसे आंध्रप्रेदश के युवा P.S.V. Kisshanने Agribot नामक रोबोटिक प्रणाली बनायी जो किसान के रूप में सहायता करती है।

#6.डोमेस्टिक या घरेलू रोबोट

आज रोबोट का इस्तेमाल घरो में साफ-सफाई के लिए भी किया जाता है। जैसे Vacuum Cleaner, जो आपके घर को साफ करता है। इसके अलावा गार्डन कटाई के लिए भी मशीने यानी रोबोट होते है।

#7.स्पेस के क्षेत्र में

रोबोट का उपयोग किसी गृह, उपग्रह आदि के अध्ययन के लिए भी किया जाता है। जैसे- मंगल गृह पर जीवन के अध्ययन के लिए नासा द्वारा Curiosity Robotic Rover को उतारा गया था।

#8.सैनिय रोबोट

आज रोबोट तकनीक काफी ज्यादा विकसित हो चुकी है। इन रोबोट का इस्तेमाल आज घातक हथियारों के रूप में होता है, तो कई रोबोट का इस्तेमाल सैना में रक्षा के लिए भी होता है,जैसे Drone, Missileइत्यादि।

इस तरह विभिन्न उद्देश्यों के लिए रोबोट का अलग-अलग तरह से इस्तेमाल किया जाता है। चलिए अब हम रोबोट के कुछ फायदे भी देख लेते हैं।

रोबोट कितने तरह के होते है -Types of Robot in Hindi

वैज्ञानिकों का मानना है कि रोबोट कार्य के आधार पर अनेक प्रकार के हो सकते हैं। जैसे-

#1. घरेलू रोबोट (Domestic Robot)

इन रोबोट का उपयोग मुख्य रूप से घरों में किया जाता है, जैसे स्वीपर्स, वैक्यूम क्लीनर, पूल क्लीनर आदि। वर्तमान में कोरोना के कारण शिक्षा, मनोरंजन या चिकित्सा इत्यादि जैसी सेवाओं के लिए रोबोट का इस्तेमाल शुरू किया जा चुका हैं।

#2. औद्योगिक रोबोट (Industrial Robot)

दुनिया का पहला रोबोट ‘Unitmate‘ भी एक औद्योगिक रोबोट ही था, जिसका इस्तेमाल कपनी में नटबोल्ट को खोलने व बंद में किया जाता था। आज औद्योगों में प्रोडक्ट निर्णाण के लिए पूरी रोबोट तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है। जैसे- सामान उठाना, वेल्डिंग करना, साफ-सफाई, पैकिंग करना, असेम्ब्लिंग करना इत्यादि।

#3. सैन्य रोबोट (Military Robot)

इसका उपयोग सैन्य रोबोट के रुप मे सैना में भी किया जाता है, जैसे ड्रोन, बम Deactivator, परिवहन रोबोट और रेसक्यू रोबोट इत्यादि। यह काफी फायदेमंद होता है, जिससे मनुष्यों की जान को सुरक्षित रखा जा सकता है।

#4. चिकित्सा रोबोट (Medical Robot)

वर्तमान में कई ऐसे रोबोट भी मौजुद हैं, जो मानव का सटिकता के साथ इलाज कर सकते है। इनका उपयोग चिकित्सा क्षैत्र में कई तरह से होता हैं, जैसे मरिजो की देखभाल, सर्जरी कार्य, सुक्ष्म कार्यों में इत्यादि।

#5. अंतरिक्ष रोबोट (Space Robot)

अंतरिक्ष का वातारण मानव के लिए अनुकुलित नही होता है, अत: ग्रहो व उपग्रहों की सतह के अध्ययन के लिए रोबोट को बनाया गया है, जैसे मार्श रोवर।

#6. सेवक रोबोट (Servant Robot)

आजकल कई जगहों पर, जैसे होटल, रेस्टोरेंट इत्यादि जगहो पर Servant के रूप में रोबोट का उपयोग किया जा रहा है जो साफ-सफाई और ऑर्डर पहुंचाने का कार्य करता है। इसके अलावा कई रोबोट का उपयोगशोध कार्य, आंकडो के संग्रहण, ग्राहक सेवा, ऑफिस कार्य किया जा सकता है।

#7. मानवीय रोबोट (Humanoid)

यह मानव के समान दिखाई देने वाला रोबोट होता है, जो मानव की तरह व्यवहार भी करता है। यह रोबोट मुख्यत: एक धड़, एक सिर, दो हाथ और दो पैर वाला होता है।

#8. साथी रोबोट (Companion Robot)

आजकल एक साथी के रूप में भी रोबोट बनाये जाते है, जो हमारी बातों को सुनता है और हमे सहयोग देता है। इसके अलावा यह रोबोट हमारे अनुसार हमारी देखाभाल भी करता है।

रोबोट के फायदे क्या है – Benefits of Robot in Hindi

रोबोट एक स्वचालित मशीन होती है, जो मनुष्य के प्रोग्राम के आधार पर सटीकता से और तेजी से काम करती है। इसके अनेक फायदे देखने को मिलते हैं, जैसे-

  1. रोबोट के उपयोग से समय की काफी बचत होती है।
  2. ज्यादा बड़े और खतरनाक कार्यों को रोबोट के द्वारा किया जा सकता है।
  3. रोबोट की मदद से किसी भी कार्य को बारिकी और शुद्धिता से किया जा सकता है।
  4. रोबोट की तकनीक में गलतियां न के बराबर होती है।
  5. इसका उपयोग खतरानक जगह पर करने से मानवीय जान का जोखिम नही रहता है।
  6. रोबोट की मदद से किसी भी कार्य को बहुत जल्द और तेजी से किया जा सकता है।
  7. यह रोबोट बिना रुके और बिना थके लगातार काम कर सकते है।
  8. रोबोट Consistency (ध्यान लगाकर) काम कर सकता है, क्योंकि रोबोट को मनुष्य की तरह इमरजेंसी की स्थिति का सामना नही करना पड़ता है।

रोबोट के नुकसान क्या है – Benefits of Robot in Hindi

किसी भी काम से सिर्फ फायदा नही हो सकता है, मतलब उसके नुकसान भी होते हैं। इसी तरह रोबोट के फायदे तो होते ही है, लेकिन इसके साथ कुछ नुकसान भी देखने को मिलते हैं। जैसे-

  1. रोबोट की लागत ज्यादा होती है।
  2. इनके रख-रखाव का खर्च ज्यादा होता है।
  3. मशीन यानी रोबोट के उपयोग के लिए बिजली की आवश्यकता पड़ती है।
  4. रोबोट किसी कार्य के गलत और सही का पता नही लगा सकता है।
  5. कई बार मशीनों में दुर्घटनाओं से मनुष्यों को हानी भी पहुंचती है।
  6. यह रोबोट मनुष्य की तरह काम करते हुए अनुभव नही ले सकते है।
  7. Robotic तकनीक के कारण मनुष्य काफी ज्यादा असक्रीय हो रहा है, जिससे मानव शरीर लगातार कमजोर हो रहा है।
  8. कंपनीयों में रोबोट के उपयोग से बोरोजगारी की समस्या बढ़ रही है, क्योंकि सभी लोग इंजिनियर नही होते है।
  9. रोबोट के खराब होने पर पूरा का बंद हो जाता है, और इसकी रिपेयरिंग में काफी परेशानीयों का सामना करना पड़ता है।

रोबोट कैसे यह दुनिया बदलने वाला है

रोबोट तकनीक लगातार बढ़ती जा रही है, और माना जा रहा है कि भविष्य के कुछ दसको में Artificial Intelligence (AI) Robot का निर्माण हो जाएगा, जो मानव की तरह सोचने व समझने की क्षमता रखेंगे। उस स्थिति में मानव जीवन खतरे में आ सकता है या फिर विकसित हो सकता है, यह समय आने पर ही पता चल पाएगा।

AI तकनीक पर आधारित रोबोट काफी ज्यादा आधुनिक होंगे, जो अपने दिमाग का 100% उपयोग कर सकते है। और इससे वे कुछ ही समय में मानव से अधिक काम कर सकते है। ऐसे रोबोट के कारण मानव जीवन खतरे में पड़ने की संभावना अधिक है।

अगर आप AI तकनीक पर आधारित रोबोट का उदाहरण देखना चाहते है तो गुगल को देख सकते है। क्योंकि गुगल पूरी दुनिया के लोगों के दिमाग को समझता है और उसके बाद गुगल पर पूंछी गयी जानकारीयों का जवाब देता है। गुगल अनगिनत डाटा को सुरक्षित रखता है और युजर को पेश करता है। इसके अलावा गुगल AI के द्वारा यूजर के दिमाग को पढ़ने तक की क्षमता रखता है।

भविष्य में रोबोट का उपयोग सर्वाधिक किया जा सकता है, जिससे हर क्षैत्र में रोबोट देखने को मिलेंगे। रोबोट काफी मजबूत होने के साथ-साथ जल्दी से निर्णय भी लेता है।आप रोबोट के कारण बदलती दुनिया साइन्स फिक्शन मूवीज (Sci-Fi Movies) में देख सकते हैं।

Humanoid robot sophia

आजतक का सबसे एडवास और उन्नत ह्यूमन रोबोट ‘Sophia‘ है, जो सिंगापुर की एक कंपनी ‘Hanson Robotics’के द्वारा बनाया गया है। सोफिया को Hanson roboticsके फाउंडर Dr. David Hansonके द्वारा बनाया गया है। यह रोबोट हमारे उज्जव भविष्य के सपनों को दिखाती है, जो विज्ञान, इंजीनियरिंग और कला के अनूठे संयोग से निर्मित मानव-निर्मित रोबोट है।

संयुक्त अरब के अमीरात ने सोफिया रोबोट को अक्टूंबर 2017 में देश की नागरिकता भी दी है। इस रोबोट ने विश्व के कई बड़े मंच पर भाषण दिया है और लोगो के सीधे प्रश्नों के जवाब भी दिये है। यह सोफिया एक अभिनेत्री “आड्री हेपबर्न” के बिल्कुल समान दिखाई देती है।

भारत का पहला 3डी ह्यूमनॉयड रोबोट

भारत देश रोबोट निर्माण में काफी अग्रणी देश है, जो रोबोट को बनाकर अन्य देशों में आयात भी करता है। दिल्ली में रहने वाले एक रोबोटिक वैज्ञानिक दिवाकर वैश ने पहला 3डी ह्यूमनॉयड रोबोट पेश किया था, जिसका नाम “मानव” रखा गया था। यह रोबोट केवल गानो पर नाच सकता था, जो 60cm लंबा और 2kg भारी रोबोट था।

दिवाकर का कहना है कि अगर रोबोट नाच सकता है तो मानव विचार के आधार पर काम भी कर सकता है। आज कई वैज्ञानिकों का मानना है कि बहुत जल्द Artificial Intelligence युक्त रोबोट भी आएगा।

रोबोटिक्स क्षेत्र में भारत देश

आज भारत देश भी कई नई तकनीकों को अपनाते हुए Robotics Field में दुनिया के साथ कदमताल कर रहा है। आज रोबोटिक तकनीक पूरी दुनिया में तेजी से फैलती जा रही है, और इस रेस में भारत देश काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है।

GNT TV रिपोर्ट के अनुसार हाल ही की दिल्ली प्रदर्शनी (दिसंबर 2021) में भारत की रोबोटिक ताकत देखने को मिली थी। एक बात है कि दुनिया के अधिकतर रोबोट मेड इन इंडिया ही है। मतलब भारत देश कई देशों में रोबोट्स की सप्लाई कर रहा है।

हाल ही में दिल्ली के प्रगति मैदान में वेयरहाउस टेक्नोलॉजी के रोबोट्स का प्रदर्शन किया गया था। 16 दिसंबर 2021 को शुरू होने वाली दिल्ही प्रदर्शनी तीन दिनों तक चली थी, जिसमें तमाम भारतीय कंपनीयों ने मेड इन इंडिया रोबोट की नुमाइश की थी।

FAQs of what is Robot in Hindi

Q1. भारत में रोबोट है क्या?

उत्तर: जी हां, आज भारत देश की कई कंपनीयां मेड इन इंडिया के रूप में रोबोट्स बना रही है। हाल ही में दिल्ही में हुई प्रदर्शनी में भारत की तमाम रोबोटिक कंपनीयों ने अनेक तरह के रोबोट को पेश किये हैं। आज भारत देश विदेशों में भी मेड इन इंडिया के रोबोट का आयात कर रहा है।

Q2. भारत का पहला मानवीय रोबोट कोनसा है?

उत्तर: रोबोटिक वैज्ञानिक दिवाकर ने “मानव” नामक पहला 3डी ह्यूमनॉयड रोबोट को पेश किया था। जो केवल गाने पर डांस कर सकता था, क्योंकि इसमें सिर्फ गानों पर नाचने के लिए प्रोग्राम फीड किया हुआ था। यह भारत का पहला मानवीय रोबोट था।

Q3. पहला रोबोट कब बनाया गया?

उत्तर: इस दुनिया का सबसे पहला रोबोट अमेरिका की कंपनी “स्पेरी गायरो स्कोप” ने सन् 1923 में बनाया था, जिसका नाम “जॉर्ज” रखा गया था। हालांकि इसमें कई कमियां देखने को मिली थी।

Q4. दुनिया का सबसे समझदार रोबोट कौनसा है?

उत्तर: सोफिया एक बहुत ही शानदार और समझदार रोबोट है, जो अनेक सेमिनार में भाषाण दे चुकी है। इसके अलावा लोगो के कई प्रश्नों के जवाब भी दे चुकी है। यह रोबोट 62 प्रकार के भाव को व्यक्त कर सकता है, अत: यह दुनिया का सबसे एडवांस रोबोट है।

Q5. रोबोट को हिंदी में क्या कहते है?

उत्तर: हिंदी भाषा में रोबोट शब्द को यंत्रमानव कहा जा सकता है। हालांकि यंत्रमानव: एक संस्कृत (संज्ञा पुल्लिंग) शब्द है, जिसका अर्थ है मनुष्य की तरह काम करने वाली स्वचालित मशीन यानी मानव आकृति यंत्र।

निष्कर्ष

इस लेख में हमने ‘रोबोट क्या है और कैसे यह दुनिया बदलने वाला है’, टॉपिक पर विस्तारपूर्वक चर्चा की है। उम्मीद है कि हमारी चर्चा आपके लिए उपयोगी रही होगी, क्योंकि हमने आपके साथ सभी नवीनतम जानकारीयों को सांझा किया हैं ।

इस लेख मे बताई गई जानकारी आप सभी लोगों को महत्वपूर्ण लगा हैं तो इसे अपने फ़ैमिलीज़ और दोस्तों के साथ जरूर साझा करे ताकि वह भी सिख सके । (writed by prem)

Leave a Comment