RPA क्या है – रोबाटिक प्रोसेस ऑटोमेशन क्या है?

टेक्नोलॉजी लगातार बढ़ती जा रही है, और साथ साथ इंसानी रोबोटिक युग भी आता जा रहा है। क्योंकि रोबोट इंसानो की तरह व्यवहार कर सकता है, और साथ ही इंसानो के काम में काफी मदद भी कर सकता है। इसीलिए RPA एक चर्चा का विषय बन चुका है, और लोग जानना चाहते है कि RPA क्या है (रोबाटिक प्रोसेस ऑटोमेशन क्या है)

आजकल लगभग हर बिज़नेस कार्य क्षैत्र में बहुत सारे कंप्यूटिंग के कार्य होते है, जिन्हो रोजाना करना पड़ता है। और इन कार्यो में समय भी ज्यादा लगता है। इसके अलावा कई बार गलतियां होने की भी संभावना रहती है। तो ऐसे में जल्दी कार्य करने और गलतियों से बचने के लिए Robotic Process Automation (RPA) की जरूरत होती है।

RPA बदलती दुनिया का एक कदम माना जा रहा है, जो बिज़नेस की गतिविधियों को काफी ज्यादा आसान और तेज बना देगा। रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन की वजह से गलियों की गुंजाईस भी न के बराबर होगी। तो चलिए अब मैं आपको बताता हूं कि RPA क्या है (रोबोट प्रोसेस ऑटोमेशन क्या है).

RPA क्या है (Robotic Process Automation in Hindi)

RPA की फुल फॉर्म “Robotic Process Automation” है, जो एक तरह का Automated Software Tool या Software Technology है। आप इसकी मदद से सॉफ्टवेयर रोबोट्स को तैयार कर सकते है, जो विभिन्न प्रकार के कार्य को करने में सक्षम है। RPA टेक्नोलॉजी से निर्मित रोबोट (सॉफ्टवेयर) इंसानों की तरह ही कार्य को सीखने में सक्षम हैं।

रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन (RPA) एक Advance Technology है, जो आने समय के रहन सहन को बदल कर रख देगा। आपने कंप्यूटर में कैलकुलेटर को देखा होगा, जो बिना गलती करे गणना करता है। इसी प्रकार यह Automated Software Tool बिज़नेस के बहुत सारे काम को बिना किसी गलती के करता है।

RPA का मुख्य उद्देश्य मनुष्यों के द्वारा किए जाने वाले जटिल कार्यों को रोबोट के द्वारा करना। यह टेक्नोलॉजी कर्माचारियों के काम करने के तरीकों की नकल करता है, और यह ज्यादा मेहनत वाले कामों को बहुत आसानी से जल्दी पूरा कर देता है। इससे कंपनी में कर्माचारी अन्य कामों पर भी ध्यान दे पाते हैं।

इस Automated Software Tool या Software Technology का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह कर्माचरियों के काम को कम समय में बिना किसी गलति के पूरा कर देता है। RPA पूरी तरह से बिज़नेस प्रक्रियाओं को समझने के लिए सक्षम है।

इसकी मदद से बहुत सारे डिजिटल कार्यों को बिना गलती के किया जा सकता है, जैसे- इनवॉइस के साथ इलेक्ट्रॉनिक मेल प्राप्त करना, डेटा निकालना, और फिर उसे बहीखाता पद्धति में वर्गीकृत करना इत्यादि। ध्यान दे कि आप RPA Software Program को अपने कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल में इस्तेमाल कर सकते है।

Robotic Process Automation (RPA) का इतिहास

RPA (Robotic Process Automation) के निर्माण में मशीन लर्निंगका काफी अहम योगदान है, और मशीन लर्निंग को 1959 में “आर्थर सैमुअल” ने बनाया था। मशीन लर्निंग की वजह से कंप्यूटर कोई भी महत्वपूर्ण जटिल कार्य कर सकता था, हालांकि इसमें कुछ Limitations थीं।

लेकिन बाद में “Natural Language Processing (NLP) का विकास हुआ, जिसने कंप्यूटर को मानवीय भाषा को अधिक सटीकता  से समझने और संसोधित करने में मदद की। इसके बाद 1960 में, NLP ने कंप्यूटर और मानवीय भाषाओं के बीच संपर्क बनाने के लिए “AI (Artificial Intelligence)”टैक्नोलॉजी को संयोजित किया।

और फिर RPA टेक्नोलॉजी का विकास हुआ। 1990 के दशक में धीरे धीरे कुछ और भी विकास हुए, जिससे निरंतर RPA तकनीक में सुधार हुआ। वैसे RPA (रोबोटिक प्रक्रिया स्वचालन) का इतिहास कहता है कि इसके तीन प्रमुख पूर्वपर्ती थे, जो निम्नलिखित हैं-

  1. Screen Scraping
  2. Workflow Automation and Management Tools
  3. Artificial Intelligence

रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन (RPA) कैसे काम करता है

सबसे पहले मैं आपको स्पष्ट कर दूं कि RPA कोई वास्तविक रोबोट नही है, जो इंसानों की तरह चलता फिरता हो। बल्कि यह एक तरह का सॉफ्टवेयर है जिसे कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल में इस्तेमाल कर सकते है। RPA सॉफ्टवेयर को फिजिकल या वर्चुअल तरीके से कंप्यूटर में इस्टॉल किया जाता है।

अब इसे रोबोट इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह कर्माचरियों के काम करने के तरीके को समझता है, और फिर उसी तरीके से अगली बार स्वत: ही पूरा कार्य कर लेता है।

कर्मचारी किस प्रकार कंप्यूटर में एप्लीकेशन को ऑपन करता है, और उसमें फिचर्स का इस्तेमाल करके उस काम को पूरा करता है। यह सब कार्य RPA समझ लेता है और फिर स्वत: ही कार्य करता है.

RPA Software बोट्स के कार्य की जटिल प्रक्रियाओं को समझता है, और फिर जब सॉफ्टवेयर एक बार Workflow को समलता है तो इस Workflow को RPA में प्रोग्राम कर लिया जाता है। इसके बाद सॉफ्टवेयर प्रोग्राम यूजर की अवश्यकताओं के अनुसार स्वत: ही बिज़नेस कार्यों को पूरा कर लेता है।

RPA Software Tools कौन कौन से हैं

आप RPA Software Tools की मदद से अपने बिज़नेस के कार्यो को ऑटोमेट कर सकते है। इसलिए मैने सबसे महत्वपूर्ण चार RPA Software Tools के बारे में बाताया है जिसकी मदद से आप अपने बिज़नेस के डिजिटल कामों को जल्दी से जल्दी कर सकते है।

  1. Blue Prism
  2. UiPath
  3. Automation Anywhere
  4. Pega

इसके अलावा कुछ अन्य RPA Software Tools भी हैं, जैसे-

  1. InflectraRapise
  2. Contextor
  3. Nice Systems
  4. Kofax
  5. Kryon
  6. Softomotive

क्या RPA और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) समान है

देखा जाए तो RPA और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) दोनों ही दोनों अलग नही है। आरपीए तकनीक को मशीन लर्निंग तकनीक के सहयोग से बनाया गया था। मशीन लर्निंग की तकनीक से कंप्यूटर कोई भी जटिल कार्य कर सकता था, लेकिन इसकी कुछ सीमाएं थी।

इसके बाद “Natural Language Processing (NLP)तकनीक आयी, जिसने कंप्यूटर को मानव की भाषा को समझने और संसोधित करने में अधिक सटीकता प्रदान की। और फिर 1960 में AI (Artificial Intelligence) तकनीक आयी, जिससे RPA का विकास हुआ। अत: RPA तकनीक AI से अलग नही है।

RPA और AI तकनीक के संयोजन से ही यह काफी कुशलता से बिज़नेस के कार्यों को पूरा कर पाता है। AI तकनीक के कारण यह इंसानों द्वारा की जाने वाली सभी डिजिटल कार्यो को अच्छे से समझता है। और भी उसी Workflow की तरह RPA स्वत: कार्य करता है।

Robotic Process Automation (RPA) के प्रकार

अभी तक हमने जाना कि RPA क्या है और यह कैसे काम करता है। चलिए अब मैं आपको बताता हूं कि आरपीए के कितने प्रकार होते हैं। वैसे यह मुख्यत: दो प्रकार के होते है- अटेंडेड स्वचालन और अनअटेंडेड स्वचालन.

आप अपने बिज़नेस कार्यों के लिए इन दोनों मे से किसी का भी इस्तेमाल कर सकते है, लेकिन इससे पहले आपको इन दोनों के बारे में जान लेना चाहिए।

#1. अटेंडेड स्वचालन

अटेंडेड स्वचालन की मदद से आप अपने बिज़नेस के अधिक उच्च मूल्य वाले कार्यों पर ध्यान केंद्रित कर सकते है। Attended Automation को काम करने के लिए ह्यूमन इंटरफेयर की जरूरत पड़ती है।

यह इंसानों के द्वारा किए गए सभी कार्यों को रिकोर्ड करता है, और फिर अगली बार वही काम यह स्वत: ही कर लेता है। हालांकि कुछ कुछ जगहों पर मनुष्य के इंटरफेयर की भी जरूरत होती है।

#2. अनअटेंडेड स्वचालन

यह Attended Automation के बिल्कुल विपरीत है, मतलब इसे काम करने के लिए किसी मनुष्य की जरूरत नही होती है। अनअटेंडेड बॉट खुद को पहले रिकॉर्ड कर लेते है, और फिर सभी क्रियाओं को खुद चलाकर काम करते है।

क्योंकि इसमें आप ट्रिगर्स का उपयोग कर सकते है, और स्वचालित इवेंट को पहले से ही शेड्यूल कर सकते है। यह टूल काफी ज्यादा इंटेलिजेंट होता है, तभी तो इनमे खुद डिसिशन-मेकिंग कैपेबिलिटीज होती है।

नोट : एक Hybrid RPA Tool भी होता है, जो Attended और Unattended ऑटोमेशन दोनों टूल्स की तरह कार्य करता है। मतलब यह  ह्यूमन इंटरफेयर और रोबोटिक दोनों प्रकार के होते है।

रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन (RPA) के उपयोग

RPA को मुख्य रूप से व्यावसायिक प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए विकसित किया गया है। RPA बॉट्स विभिन्न क्षैत्रों में अलग अलग तरह से उपयोगी है। तो चलिए मैं आपको इसके कुछ महत्वपूर्ण उपयोग के बारे में बताता हूं-

1. वित्तीय क्षैत्र में:

आरपीए तकनीक का उपयोग बैंकिंग क्षैत्र में काफी अधिक किया जाता है, क्योंकि यह  खाता निर्माण, पूछताछ प्रबंधन, ग्राहक पूर्वेक्षण और धन-शोधन विरोधी जैसी व्यावसायिक प्रक्रियाओं को स्वचालित कर सकता है। आज कई बड़े बड़े बैंक आरपीए स्वचालन तकनीक का इस्तेमाल कर रहे है।

2. खुदरा व्यवसायिक क्षैत्र में:

आजकल लगभग सभी लोग ऑनलाइन यानी ई-कॉमर्स वेबसाइट (Amazon, Flipart, Meesho etc.) से प्रोडक्ट को खरीदते है। तो ऑनलाइन स्टोर से ग्राहको तक सामान पहुंचाने के अनेक कार्य RPA के द्वारा ही आसान बनाया जाता है, जैसे ऑर्डर बुकिंग, स्टॉक मैनेजमेंट, रिव्यू मैनेजमेंट और रिटर्न प्रबंधन इत्यादि।

3. बीमा के लिए:

आपने बीमा के बारे में जरूर सुना होगा, जिसके सभी कार्य ऑनलाइन ही होते है। अत: इस डिजिटल कार्यों को RPA के द्वारा काफी आसानी से जल्दी खत्म किया जा सकता है।

4. दूरसंचार के क्षैत्र में:

RPA का उपयोग करने वाला एक अन्य क्षैत्र दूरसंचार भी है, क्योंकि आरपीए दूरसंचार कंपनीयों की आपूर्ति बढ़ने पर अपने नेटवर्क, उद्यम अनुप्रयोगों और डेटा शेयरिंग को सुव्यवस्थित करने में सहायता करता है। RPA ग्राहक दस्तावेज़ीकरण को स्वचालित करने, ग्राहक नेटवर्क बढ़ाने, सस्ती व विश्वसनीय सेवाओं को बनाए रखने और नए 5जी नेटवर्क मैनेजमेंट में सहायता कर सकता है।

5. स्वास्थ्य देखभाल के क्षैत्र में:

स्वास्थ्य देखभाल के लिए बड़े बड़े हॉस्पीटल विभिन्न प्रक्रिया को कारगर बनाने के लिए RPA तकनीक का इस्तेमाल करते है, जैसे सूचना प्रबंधन, दवा प्रबंधन, बीमा भुगतान प्रबंधन और बिलिंग चक्र इत्यादि। इसके अलावा यह कई स्वास्थ्य मुद्दों को भी निपटाता है, जैसे- लान और अनुपालन, डिजिटल स्वास्थ्य रिकॉर्ड, स्वास्थ्य रिकॉर्ड, रोगी बुकिंग आदि।

6. कुछ अन्य उपयोग:

  1. OCR आवेदन में
  2. कस्टमर केयर ऑटोमेशन में
  3. डेटा निष्कर्षण प्रक्रिया में
  4. निश्चित ऑटोमेशन प्रक्रिया में
  5. मोर्टगेज और उधार की प्रक्रिया
  6. ई-कॉमर्स मर्चेंडाइजिंग ऑपरेशन
  7. बैंकिंग और वित्तीय प्रक्रिया स्वचालन

RPA (रोबोटिक प्रक्रिया स्वचालन) के फायदे in Hindi

बैंकिंग और वित्तीय प्रक्रिया स्वचालन के अनेक फायदे हैं, जैसे-

  1. शुद्धता और गुणवत्ता : यह किसी भी जटिल डिजिटल कार्य को कर सकता है, जिसमें गलतियों की कोई गुंजाइस नही होती है।
  2. कंसिस्टेंसी : यह एक तरह की सुरक्षित और गैर-आक्रामक तकनीक है, जो निरंतर नियमों का पालन करता है। और काम के समय अंतर्निहित सरचनाओं में किसी भी तरह से हस्तक्षेप नही करता है।
  3. प्रभावी लागत : इसके उपयोग से अतिरिक्त और परिचालन मूल्य को 25 से 50 फीसदी कम किया जा सकता है।
  4. तेज स्पीड : RPA बॉट बड़ी मात्रा में तथ्यों को ध्यान में रखते हुए, काफी तेजी से काम करता है।
  5. कार्य क्षमता बढ़ना : आरपीए कर्मचारी को नीरस काम से छुटकारा देता है, जिससे कर्मचारी ग्राहको पर ज्यादा ध्यान दे पाता है.
  6. ग्राहक संतुष्टि : RPA सभी कामों को सटीकता से उच्च गुणवत्ता के साथ पूरा करता है, जिससे ग्राहको को भी संतुष्टि रहती है।
  7. बेहतर विश्लेषक: यह पहली बार में ही बिना गलती के बिल्कुल सही रिकॉर्ड को पेश करता है।
  8. बहुमुखी प्रतिभा : RPA की बहुमुखी प्रतिभा के कारण इसे अनेक क्षैत्रों में उपयोग लिया जाता है।
  9. विश्वसनीय : यह सैकड़ो हजारों कार्यो को कुशलता से बिना किसी गलती के कर सकता है, अत: यह काफी विश्वसनीय है।
  10. स्मार्ट : RPA सॉफ्टवेयर टूल काफी स्मार्ट है, क्योंकि यह कर्मचारी के Workflow को आसानी से समझ लेता है, और बेहतर प्रफोर्मेंश देता है।

आरपीए के व्यावसायिक लाभ क्या क्या हैं

RPA को व्यावसाय में उपयोग करने से काफी लाभ मिलते हैं, जैसे-

  1. Robotic Process Automation (RPA) के आप अपने व्यावसाय की उत्पादकता को बढ़ा सकते है।
  2. आरपीए के उपयोग से व्यावसाय के अतिरिक्त और परिचालन मूल्य को 25 से 50 फीसदी कम करता है।
  3. RPA के उपयोग से मानवीय त्रुटियां और डेटा हानि काफी कम होती है।
  4. कर्मचारियों पर निरश काम का बोझ कम होने से, वे अपने ग्राहको को बेहतर सेवा दे पाते है।
  5. रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन (RPA) कर्माचारियों के जटिल कामों को जल्दी पूरा करने में काफी मदद करता है।

RPA से जुड़ी कुछ चुनौतियां

भारत देश में RPA के उपयोग से जुड़ी कुछ चुनौतियां भी हैं, जो निम्नलिखित हैं-

  1. भारत में काफी लोग RPA के बारे में अधिक जागरूक नही है, इसलिए आज भी काफी काम कर्मचारियों के द्वारा होता है.
  2. RPA सॉफ्टवेयर टूल को चलाने वाले विशेषज्ञों की कभी भी एक महत्वपूर्ण चुनौती है।
  3. देश के प्राध्यापक और शिक्षक भी ऐसी तकनीकों से अवगत नही हैं।
  4. काफी लोगों को RPA की वजह से रोजगार कम होने का भी डर होता है।

निष्कर्ष

Robotic Process Automation (RPA) एक गज़ब का Automated Software Tool या Software Technology है, जो व्यावसायिक कार्यों को काफी कुशल और आसान बना देता है। RPA का उपयोग व्यावसायिक क्षैत्र के अलावा अन्य क्षैत्रों में भी काफी ज्यादा है, जैसे- दूरसंचार, स्वास्थ्य देखभाल, बीमा, वीत्तीय या बैंकिंग क्षेत्र इत्यादि।

उम्मीद है कि इस आर्टिकल की मदद से आपको पता चल गया होगा कि RPA क्या है और रोबोट प्रोसेस ऑटोमेशन कैसे काम करता है? हालांकि इसके अलावा भी मैने RPA से जुड़ी कई जानकारियां आपके साथ सांझा की है। अंत मे आप सभी से हम तहे दिल से यही कहना चाहते है की अगर आप सभी के मन मे इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल है उसे नीचे Comment मे अवश्य लिखे और इस आर्टिकल को सोशल साइट्स जैसे Facebook, Twitter इत्यादि पर भी अवश्य सहरे कीजिए।

Leave a Comment