Reused content क्या होता है? Reused content कैसे हटाये

बहुत सारे लोगो का यह परेशानी है कि Reused content कैसे हटाये, Reused content क्या होता है? यह सब सारी परेशानी का आज आपको हल मिलने वाला है ज्यादातर यूट्यूब पर काम करने वाले लोगो को यह प्रॉब्लम यूट्यूब चैनल को माॅनिटाइज करने के वक्त आता है क्योकि यह नियम सिर्फ यूट्यूब का नही गुगल AdSense का भी है।

जब आप अपने यूट्यूब चैनल के सारे criteria को पुरा कर के चैनल को माॅनिटाइज करने के लिए गुगल AdSense को भेजते है तब यह परेशानी होती है कि चैनल को माॅनिटाइज नही किया जाता Reused content के कारण तो आप को इस चीज का पुरा सोल्यूशन  मिलने वाला है इस लेख मे फिर आपको यह प्रॉब्लम कभी दोबारा नही आयेगा और आपका भी यूट्यूब चैनल बिना किसी परेशानी के माॅनिटाइज हो जायेगा।

Reused content क्या है?

अब सबसे पहले हमे यह समझना है कि Reused content आखिर होता क्या है Reused content का साफ – साफ मतलब यह है कि आपने यूट्यूब पर पहले से अपलोड यानी पहले से यूज़ किए हुए विडियो (content) को दोबारा यूट्यूब पर अपलोड करना इसमे यूट्यूब को आपके इस दोबारा अपलोड किये गये विडियो से यूट्यूब को कोई परेशानी नही होगी।

लेकिन अगर जिसका विडियो आपने इस्तेमाल किया है वह आपको कॉपीराइट क्लेम  या चाहे तो कॉपीराइट स्ट्राइक भी दे सकता है जो कि आपके चैनल पर गलत प्रभाव डालता है अगर आपने कोई भी विडियो क्लिप जो पहले से यूट्यूब पर अपलोड है उसे आप अपने विडियो बनाने के लिए दोबारा इस्तेमाल करते है वह Reused content है और ऐसे चैनल को गुगल AdSense रिजेक्ट करता है और चैनल को disprove कर देता है।

Reused content कैसे हटाये?

Reused content कैसे हटाये  इसके लिए आपको अपने सभी यूट्यूब विडियो को चेक करना होगा कि आपने कितना Reused content इस्तेमाल किया है अगर इन विडियो क्लिप के बिना आपकी विडियो बन सकती है तो आप इसे हटा दे नही हटाना चाहे फिर भी कोई दिक्कत नही है आपने जिसका क्लिप इस्तेमाल किया है उसका आपको परमिशन लेना पड़ेगा अगर उसे कोई दिक्कत नही है तो आप सुनिश्चित इस्तेमाल कर सकते है।

Reused content क्यो आता है?

अब आपको पता चल गया होगा कि Reused content का समस्या क्यो आता है लेकिन अगर हम अपने चैनल पर परमिशन लेकर Reused content इस्तेमाल करते है तो अगर आप चैनल को माॅनिटाइज करने के लिए गुगल AdSense के तरफ से रिजेक्शन का मैल आता है तो इसे हम कैसे फिक्स करे।

तो इसके लिए आपको अपने  विडियो अपना खुद का वैल्यू एड करना होगा चाहे आपने जिसका भी क्लिप इस्तेमाल किया हो चाहे वह कॉमन क्रिएटिव हो या स्टैंडर्ड लाइसेंस अपने विडियो मे खुद का वैल्यू एड करना हि होगा तभी आपका चैनल माॅनिटाइज हो पायेगा वरना Reused content मे अटक जायेगा खुद कि वैल्यू मतलब जो क्लिप आपने इस्तेमाल किया है वह बस एक छोटा सा पार्ट होना चाहिए।

Reused content YouTube monetization problem solution क्या है?

आपने जिसका भी क्लिप इस्तेमाल किया हो चाहे वह कॉमन क्रिएटिव हो या स्टैंडर्ड लाइसेंस अपने विडियो मे खुद का वैल्यू एड करना हि होगा तभी आपका चैनल माॅनिटाइज हो पायेगा वरना Reused content मे अटक जायेगा खुद कि वैल्यू मतलब जो क्लिप आपने इस्तेमाल किया है वह बस एक छोटा सा पार्ट होना चाहिए।

Reused content को पुरी तरह से Fix कैसे करे?

Reused content को अगर आप पुरी तरह से फिक्स करना चाहते है तो आपको मै एक ही एडवाइस दुंगा आपको अपना चैनल माॅनिटाइज होने तक आप Reused content इस्तेमाल ना करें फिर जब आपका चैनल माॅनिटाइज हो जाये।

फिर आपको जब Reused content इस्तेमाल करना चाहे तब content ओनर का परमिशन लेकर इस्तेमाल करें और कभी ऐसी प्रॉब्लम नही देखना चाहते है तो आप दस सेकंड से ज्यादा का क्लिप इस्तेमाल ना करें यही एडवाइस है आपको कभी भी कोई Reused content कि कोई प्रॉब्लम नही होगा।

Reused content कैसे पता करे?

Reused content कैसे पता करे कि आपके यूट्यूब चैनल पर कोई Reused content है कि नही इसके लिए कोई टुल नही है लेकिन आप इसे इस प्रकार देख सकते है।

सबसे पहले अपने चैनल पर उपलब्ध सभी विडियोज को देखना होगा और आपको यह देखना होगा कि आप ने कहाँ पर आपने कोई क्लिप इस्तेमाल किया है और यह क्लिप कहाँ से आया है क्या यह यूट्यूब पर पहले से है तो अगर यह पहले से तो यह Reused content मे आयेगा अगर नही तो ठिक है लेकिन वह क्लिप जिसका भी है वह कॉपीराइट दे सकता है।

Reused Content और Repeated Content मे अतंर

  • Reused Content – का सीधा मतलब यह है आपने यूट्यूब पर पहले से उपलब्ध कटेंट का दोबारा इस्तेमाल करना।
  • Repeated Content – इसका सीधा मतलब आसान भाषा मे यह है कि जो विडीयो आपने पहले हि यूट्यूब पर अपलोड किया मतलब विडीयो नम्बर 1 और विडीयो नम्बर 2 मे आपने सेम चीजो को बारे मे बात किया है सेम जानकारी दी है जिस पर पहले हि आप ने विडियो अपलोड किया है और वही दोबारा बता रहे है चाहे विडीयो दोबारा रिकॉर्ड किया ही क्यो नही हो लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा यह repeated content मे माना जायेगा।

निष्कर्ष

तो दोस्तो उम्मीद है कि आपको यह जानकारी बेहद पसंद आया होगा और आप यह समझ मे आ गया होगा कि Reused Content क्या होता है और Reused content कैसे हटाये? और आपको यह जानकारी महत्वपूर्ण लगा है तो इसे अपने फैमिली दोस्तो के साथ जरुर करें और यह लेख कैसा लगा कमेंट बॉक्स में लिखकर जरुर बताएं।

Leave a Comment