पेमेंट गेटवे क्या है (What is Payment Gateway in Hindi)

इंटरनेट और ऑनलाइन व्यवसाय इतना ज्यादा विकसित होने के बावजूद बहुत सारे लोगों को पेमेंट गेटवे क्या है ? इस बारे मे कोई जानकारी नहीं है अक्सर हम इसका इस्तेमाल ऑनलाइन शॉपिंग करते वक्त एक ग्राहक के रूप मे इस्तेमाल करते है लेकिन फिर भी इसके बारे मे हमे कोई जानकारी नहीं है, इसे समझने के लिए हमें ग्राहक नहीं व्यवसायी बनना पड़ेगा।

वर्तमान समय मे एक से बढ़कर एक व्यवसाय इंटरनेट पर आ चुका है क्योंकि इंटरनेट के माध्यम से हम अपने किसी भी तरह के प्रोडक्ट या सर्विस को बेच सकते है और इसमे ग्राहक पूरी दुनिया के होते है। ऑनलाइन व्यवसाय को करने के लिए हमे एक अच्छा सा पेमेंट गेटवे की आवश्यकता होती है इसके बिना ऑनलाइन व्यवसाय नहीं किया जा सकता है।

तो अब हम देखे तो सवाल यह आता है की पेमेंट गेटवे क्या है ? और इसकी आवश्यकता क्यों पड़ती है, तो आपको बता दे की ऑनलाइन व्यवसाय करने के लिए जब हम ऑनलाइन दुकान खोलते है तब ग्राहकों द्वारा किए गए पेमेंट्स को Collect करने के लिए हमें एक पेमेंट गेटवे की आवश्यकता होती है जो की ग्राहकों को अलग अलग Payment Method Provide करता है।

इसके अलावा और भी कई सारे ऐसे कार्य होते है जिसके लिए हमें पेमेंट गेटवे की आवश्यकता पड़ती है, यह तो पेमेंट गेटवे एक सरल परिभाषा था। तो चलिए अब हम पेमेंट गेटवे क्या होता है ? और इससे संबंधित समस्त जानकारी को विस्तार से जानने और समझने की शुरुआत करते है।

पेमेंट गेटवे क्या है – What is Payment Gateway in Hindi

पेमेंट गेटवे का सीधा सीधा मतलब है भुगतान का रास्ता, यह ई कॉमर्स Application द्वारा प्रदान किया जाने वाला एक ऐसा सर्विस है जिसके जरिए ग्राहक किसी Merchant को Fund ट्रांसफर करते है।

यह एक प्रकार का क्लाउड आधारित एक सॉफ्टवेयर होता है जो की ग्राहक को पेमेंट की सुविधा प्रदान करता है और ग्राहक द्वारा किए गए पेमेंट को Merchant के बैंक अकाउंट मे भेजता है और ग्राहक के पेमेंट संबंधित समस्त Data को एकत्रित करता है।

इसका काम पेमेंट से जुड़ा होता है, यह Merchant और ग्राहक के पेमेंट संबंधित समस्त कार्यों को पूरा करता है। मतलब जब ग्राहक Merchant के किसी प्रोडक्ट या सर्विस को Merchant के वेबसाइट या फिर App से खरीदता है तब ग्राहक को पेमेंट गेटवे एक ऐसा पेज प्रदान करता है।

जिससे की ग्राहक Merchant को पेमेंट कर पाता है उसके बाद ग्राहक द्वारा किए गए पेमेंट को Merchant के अकाउंट मे ट्रांसफर करता है और ग्राहक के पेमेंट संबंधित समस्त जानकारी को एकत्रित करता है ताकि उसे दोबारा Refund जैसे कार्यों के लिए उपयोग मे लिया जा सके।

हम Payment gateway kya hota hai, इसे आसान भाषा मे समझने की कोशिश करे तो आपको बता दे की अक्सर जब हम ऑनलाइन कुछ खरीदते है जैसे डोमेन नेम, जब हम इसे खरीदने के लिए किसी वेबसाइट पर जाते है और जब अंत मे जब हम सभी प्रोसेस को पूरा कर लेते है तब एक पेमेंट का पेज ओपन होता है वह पेमेंट पेज पेमेंट गेटवे के द्वारा प्रदान किया जाता है।

पेमेंट गेटवे ग्राहक और Merchant के बीच मे बिल्कुल Middle man की तरह कार्य करता है जो की सर्वप्रथम ग्राहक द्वारा दिए गए जानकारी को Validate करता है, जिसके बाद ग्राहक के दिए गए जानकारी को बैंक तक भेजता है, अंत मे ग्राहक के द्वारा किए गए पेमेंट को Merchant के अकाउंट मे भेज देता है और ग्राहक को पेमेंट सफलतापूर्वक हो चुका है इसका सूचना प्रदान कर देता है।

पेमेंट गेटवे अपने प्रोसेस को Encrypted फॉर्म मे करता है, मतलब ग्राहक से प्राप्त हुआ पेमेंट के डेटा को Encrypt फॉर्म मे बैंक तक Send करता है जिसकी वजह से सुरक्षा संबंधित कोई भी परेशानी नहीं होती है।

पेमेंट गेटवे कितने प्रकार के होते है (Types)

अब अगर हम इस बारे मे चर्चा करे की पेमेंट गेटवे कितने प्रकार के होते है ? तो आपको बता दे की वर्तमान समय मे मुख्य रूप से तीन प्रकार के पेमेंट गेटवे उपलब्ध है जो की निम्नलिखित है –

1. Hosted Payment Gateway. यह एक प्रकार का थर्ड पार्टी चेकाउट सिस्टम होता है जो की ग्राहक को पेमेंट करते समय पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर के पेज पर रिडायरेक्ट करता है।

मतलब Hosted Payment Gateway मे जब ग्राहक Merchant के वेबसाइट से कुछ खरीदता है तब Hosted Payment Gateway पेमेंट के समय उस अपने पेज पर रिडायरेक्ट करता है और जब पेमेंट की प्रक्रिया सफल हो जाती है तब ग्राहक वापिस से Merchant के वेबसाइट पर पहुँच जाता है।

2. Self Hosted Payment Gateway. इसे Non Hosted payment Gateway के नाम से भी जाना जाता है यह पेमेंट गेटवे ग्राहक को Merchant के वेबसाइट पर ही रहकर पेमेंट करने की अनुमति प्रदान करता है मतलब Hosted payment Gateway के अंतर्गत ग्राहक को पेमेंट करने के लिए पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर के पेज पर जाना पड़ता था लेकिन इसमे ग्राहक Merchant के वेबसाइट मे रहकर पेमेंट की प्रक्रिया को पूरा कर सकता है।

यह पेमेंट गेटवे Merchant के वेबसाइट के User Exeperience को और अधिक बेहतर बनाता है।

3. API Payment Gateway. इसके अंतर्गत ग्राहक क्रेडिट कार्ड या किसी अन्य पेमेंट Method के जरिए Merchant की वेबसाइट मे रहकर पेमेंट करता सकता है लेकिन इसमे पेमेंट के लिए अलग से कोई यूआरएल पेज नहीं होता है बल्कि पेमेंट की पूरी प्रक्रिया HTTPS Queries या API से होती है यह काफी ज्यादा बेहतर पेमेंट गेटवे माना जाता है क्योंकि इसमे पेमेंट प्रक्रिया पर Merchant का पूरा नियंत्रण होता है।

लेकिन इसके साथ साथ इस पेमेंट गेटवे को उपयोग करने के लिए Merchant के पास SSL Certificate और PCI Compliance होना आवश्यक है वर्तमान समय मे विभिन्न कंपनी के द्वारा API पेमेंट गेटवे Provide किया जाता है जैसे Instamojo, Rozorpay, PayU इत्यादि।

यह भी जानिए : Canva क्या है ?

पेमेंट गेटवे कैसे काम करता है?

हमने पेमेंट गेटवे क्या होता है, इसके बारे मे तो जान लिया लेकिन पेमेंट गेटवे कैसे काम करता है ? इस भी जानना बेहद ही आवश्यक है, इसे हम एक ऐसे Customer के उदाहरण से समझते है जिसके पास Master card उपलब्ध है और उसी से वह पेमेंट कर रहा है। तो सबसे पहले इसमे कुल 6 Entitys कार्य करेगी –

  • A – Customer
  • B – Customer Bank
  • C – Merchant
  • D – Merchants Bank
  • E – Card Network (Master card)
  • F – Payment Gatway

तो चलिए हम एक एक कर के इसे विस्तार से समझने की कोशिश करते है –

सबसे A यानि Customer C के वेबसाइट मे जाकर किसी Product या Service को खरीदने के लिए उस पर क्लिक करता है और फिर A पेमेंट गेटवे के पेमेंट पेज मे पहुँच जाता है जिसके बाद A Card वाला पेमेंट Method सिलेक्ट करता है और फिर वह अपने कार्ड से संबंधित समस्त जानकारी को Enter करके Submit करता है।

जिसके बाद पेमेंट गेटवे A के Card के Details को D तक Encrypt Form मे सुरक्षित तरीके से पहुँचा देता है, जिसके बाद D A के कार्ड Details को valid करने और Card मे पर्याप्त balance है की नहीं इसका पता लगाने के लिए D (Merchant Bank) E (Card Network) के पास Request send करता है।

फिर E B के पास Request को Forword करता है जिसके बाद B Card को Validate करता है और यह पता लगाता है की पेमेंट सफल है या नहीं उसके बाद वह इसकी सूचना E के पास पहुँचा देता है अब E उस सूचना को D के पास Forword करता है अब उस सूचना को D F यानि पेमेंट गेटवे तक पहुंचाता है।

जिसके बाद F यानि पेमेंट गेटवे उस सूचना को C यानि Merchant तक पहुंचाता है जिसके पास इसकी सूचना पेमेंट पेज पर दिखाई देने लगती है, यह पूरी प्रक्रिया होने मे मात्र 3 से 5 सेकंड का समय लगता है तो कुछ इस प्रकार पेमेंट गेटवे काम करता है।

बेस्ट पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर

अगर आपका सवाल है की वर्तमान समय मे कौन से पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर जिनका हम उपयोग करके हम ऑनलाइन पेमेंट संबंधित कार्य को बेहतर तरीके से कर सकते है तो अब हम कुछ ऐसे बेस्ट पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर के बारे मे जानने वाले है जिनका उपयोग आप वर्तमान समय मे अपने ई कॉमर्स वेबसाइट मे कर सकते है –

1. Razorpay

यह एक बेहद ही प्रसिद्ध भारतीय पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर है जो की ई कॉमर्स वेबसाइट पर विभिन्न Methods के माध्यम से ऑनलाइन पेमेंट स्वीकार करने का कार्य करती है, इसे 2013 मे बनाया गया था। Rojapay हर एक Transaction पर 2 प्रतिशत का चार्ज लेता है।

2. Instamojo

Instamojo काफी प्रसिद्ध पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर है जिसका उपयोग काफी सारे भारतीय ई कॉमर्स वेबसाइटस् करते है यह भी ई कॉमर्स वेबसाइटस् पर ग्राहकों को पेमेंट पेज प्रोवाइड करता है और ग्राहकों के पेमेंट को Collect करके Merchant के खाते मे ट्रांसफर करता है।

Instamojo सिर्फ भारत के लिए मतलब इसके जरिए International पेमेंट्स को स्वीकार नहीं कर सकते है, यह प्रत्येक Transaction का जीएसटी मिलकर 2 प्रतिशत + 3 रुपये चार्ज लेता है।

3. CCAvenue

यह एक बहुत ही बड़ी पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर है जिसका इस्तेमाल काफी बड़ी बड़ी कंपनी जैसे Godaddy, Starbucks, Bookmyshow इत्यादि करती है इसके जरिए हम अपने ऑनलाइन व्यवसाय मे ग्राहकों द्वारा किए जाने वाले पेमेंट्स को Collect कर सकते है और ग्राहकों को पेमेंट के लिए अलग अलग विकल्प के साथ एक बेहतर सुविधा प्रदान कर सकते है।

4. PayU

PayU एक बहुत ही बढ़िया पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर है जिसका उपयोग करके हम अपने अपने वेबसाइट या App पर पेमेंट गेटवे सेटअप कर सकते है, और Users को विभिन्न प्रकार के पेमेंट Methods प्रोवाइड कर सकते है। इसके माध्यम से हम ग्राहकों के द्वारा किए जाने वाले पेमेंट्स को Collect कर सकते है, यह प्रत्येक लेनदेन मे जीएसटी मिलकर 2 प्रतिशत चार्ज लेती है।

5. Paypal

यह एक बेहद ही प्रसिद्ध ऑनलाइन पेमेंट सर्विस कंपनी है जिसके माध्यम से हम इलेक्ट्रॉनिक तरीके से Funds को भेज और प्राप्त कर सकते है साथ मे Paypal एक पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर भी है जिसको हम अपने ऑनलाइन दुकान मे सेटअप करके ग्राहकों को विभिन्न प्रकार के पेमेंट्स Methods प्रोवाइड कर सकते है और ग्राहकों द्वारा किए गए पेमेंट्स को Collect कर सकते है।

FAQ’s (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

वर्तमान समय मे पेमेंट गेटवे क्या है ? इससे संबंधित काफी सारे सवाल है जो अक्सर पूछे जाते है तो चलिए उन सभी के बारे मे जानते है –

पेमेंट गेटवे का मतलब क्या है?

पेमेंट गेटवे का हिन्दी मे मतलब भुगतान द्वार होता है लेकिन पेमेंट गेटवे एक प्रकार का सॉफ्टवेयर Application होता है जो की ऑनलाइन व्यवसायों मे समस्त पेमेंट के लेनदेन संबंधित कार्य को पूरा करता है।

पेमेंट गेटवे पैसे कैसे कमाते है?

पेमेंट गेटवे Merchant के Transactions मे से कुछ प्रतिशत सर्विस चार्ज के रूप मे रखते है इसी से पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर की कमाई होती है।

सबसे बेहतर पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर कौन सा है?

वर्तमान समय मे मार्केट मे काफी सारे अच्छे से अच्छे पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर उपलब्ध है लेकिन भारतीय मार्केट मे Instamojo काफी बेहतर पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर है जिसका उपयोग काफी बड़ी बड़ी कंपनी करती है।

इस लेख से क्या सिखा?

अब अंत मे अगर हम सीधे तौर पर पेमेंट गेटवे को समझे तो यह एक प्रकार का सॉफ्टवेयर Application होता है जो की यूजर को ऑनलाइन ई कॉमर्स वेबसाइट के माध्यम से सुरक्षित अलग अलग पेमेंट Methods के जरिए Product या Service का भुगतान करने की सुविधा प्रदान करता है।

उम्मीद है की इस लेख को पढ़कर आपको काफी कुछ नया सीखने को मिल होगा और आपने पेमेंट गेटवे क्या है (Payment Gateway Meaning in Hindi) इससे संबंधित समस्त जानकारी को विस्तार से प्राप्त कर लिया होगा। अगर आप सभी के मन मे इस लेख से जुड़ा कोई भी सुझाव है तो नीचे Comment मे लिखकर जरूर बताएं और इस लेख को Twitter, Facebook इत्यादि पर भी जरूर शेयर कीजिए।

Leave a Comment