मोबाइल फोन को हैक होने से कैसे बचाये (11 तरीके)

क्या आपको मोबाइल फोन को हैक होने से कैसे बचाये? इसके बारे मे पता है अगर नहीं तब आपको इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ना चाहिए क्योंकि आज के इस डिजिटल समय मे क्या पता किस वजह से हमारा फोन हैक हो जाए, इसलिए हमें इस विषय मे विस्तार से जानना जरूरी है।

मोबाइल आज के समय मे एक ऐसा उपकरण बन चुका है जिसका उपयोग लगभग हर एक नागरिक करता है एवं अभी के इस समय को देखे तो हम बिना स्मार्टफोन के एक सुविधाजनक जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते है क्योंकि वर्तमान मे ऐसे काफी सारे महत्वपूर्ण कार्य मोबाइल से ही किए जा रहे है एवं लगभग सभी लोगों के मोबाइल मे काफी जरूरी जरूरी डेटा और इनफार्मेशन मौजूद होते है।

ऐसे मे अगर हमारे फोन का Access किसी गलत हाथों मे चला जाता है तब वह हमारे गुप्त डेटा और इनफार्मेशन को Leak कर सकता है एवं उसके Base पर कोई गलत कार्य भी कर सकता है इसलिए हमें हमारे फोन को सुरक्षित और Hackers से बचा कर रखना जरूरी है एवं आज के समय मे काफी Advance तकनिके भी आ चुके है जिसकी वजह से अगर हमारा फोन हैक भी हो जाता है तब भी हमें पता नहीं लगेगा।

ऐसी स्तिथि मे हमे मोबाइल हैक होने के लक्षण के बारे मे पता होना चाहिए ताकि हम यह पता लगा पाए की हमारा फोन हैक है या नहीं और हमे मोबाइल हैक होने पर क्या करे? इसके बारे मे भी जानकारी होनी चाहिए तभी हम अपने फोन को Hackers से सुरक्षित रख सकते है। इस वजह से हमने आज के इस आर्टिकल को लिखने का चयन किया जिसके माध्यम से हम Mobile Phone Ko Hack Hone Se Kaise Bachaye, इसके बारे मे जानने वाले है।

तो चलिए अब हम जानते है और कुछ नया सीखते है।

Contents दिखाए

मोबाइल हैक होने के लक्षण

जितना जरूरी हमे मोबाइल फोन को हैक होने से कैसे बचाये, इसके बारे मे जानना जरूरी है उतना ही जरूरी हमे मोबाइल हैक होने के लक्षण के बारे मे जानना है।

बहुत ही कम Cases मे हमारा फोन सीधे हैक हो सकता है क्योंकि आजकल के फोन मे काफी सारे सुरक्षा के Layers चढ़ा दिए गए है जिनकी वजह से हमारा फोन के हैक होने के बहुत ही कम संभावना होती है इसका मतलब यह नहीं है की आपका फोन हैक नहीं हो सकता है बिल्कुल हो सकता है।

लेकिन अब सवाल यह है की अगर फोन गलती से हैक हो गया है तो इसका पता कैसे लगाए। तो आपको बता दे की फोन हैक होने के कुछ लक्षण है जिसके आधार पर हम यह पता लगा सकते है की हमारा फोन हैक हुआ है या नहीं, तो चलिए अब हम उन लक्षणों के बारे मे जानते है।

1. बेवजह फोन गर्म होना.

अगर आपका फोन बिना किसी वजह से अचानक अपने आप ही गर्म हो रहा है एवं आपने अपने मोबाइल पर सभी tabs को बंद के रख दिया है तब भी आपका फोन काफी अधिक गर्म हो रहा है तब इसका मतलब हो सकता है की आपका फोन हैक हो चुका है क्योंकि Hackers दूसरे स्थान से आपके फोन को Access कर रहा है।

2. फोन का बैटरी बहुत जल्दी खत्म होना.

आपने अपने फोन का उपयोग भी नहीं किया और आपके फोन का बैटरी अचानक से काफी तेजी से खत्म हो रहा है आपके फोन का बैटरी खराब होने के अलावा यह भी हो सकता है की आपका फोन हैक हो चुका है क्योंकि जब Hackers किसी फोन को हैक करते है तो उसे अपने System से Access कर रहे होते है जिसकी वजह फोन का सॉफ्टवेयर चालू ही रहता है और फोन का बैटरी जल्दी खत्म होने लगता है।

3. इंटरनेट अपने आप और जल्दी खत्म होना.

फोन का इंटरनेट डेटा का आपने बिल्कुल भी उपयोग नहीं किया, न ही मोबाइल मे कोई Tab ओपन है और अचानक से आपके फोन का डेटा तेजी से खत्म हो रहा है तब इसका मतलब हो सकता है की आपका फोन हैक हो चुका हो और हैकर आपके फोन के Backend मे कोई App रन कर रहा हो।

4. मोबाइल का Performance कम हो जाना.

अगर आपका फोन नया है और आपके फोन की Performance काफी अच्छी है लेकिन अचानक से आपके फोन Performance बहुत ही कम हो गया है एवं बहुत ही Slow काम कर रहा है तब हो सकता है की आपका फोन हैक हो चुका है और आपके फोन के Backend मे कोई App या प्रोग्राम चल रहा है जिसकी वजह से आपका फोन Slow हो चुका है।

5. फोन मे Unknown Apps का अपने आप इंस्टॉल हो जाना.

अगर आपने फोन मे कोई भी App इंस्टॉल नहीं किया है और बेवजह आपके फोन मे कुछ अनजान App ऑटोमैटिक इंस्टॉल हो रहे है तब इसका मतलब हो सकता है की आपका फोन हैक हो चुका है और आपके फोन को हैकर Access कर रहा है।

मोबाइल फोन को हैक होने से कैसे बचाये?

अब हम आते है अपने मुख टॉपिक पर की आखिर हम अपने फोन को हैक होने से कैसे बचा सकते है तो आपको बता दे की Hackers के कुछ ऐसे तरीके होते है जिनकी मदद से वे किसी फोन को हैक करते है ऐसे मे हमे मोबाइल के सुरक्षा के कुछ ऐसे नियम है जिन्हे अगर हम फॉलो करते है तब हैकर हमारे फोन को हैक नहीं कर सकता है।

मोबाइल के सुरक्षा के नियम निम्नलिखित है जिन्हे फॉलो करके आप अपने फोन को हैक होने से बचा सकते है।

1. अनजान लिंक पर क्लिक मत कीजिए.

आज का समय ऐसा है की हम अपने दैनिक जीवन मे काफी सारे Apps का उपयोग करते ही है जिसकी वजह से हमारा ईमेल आइडी या मोबाइल नंबर पहले से ही Leak हो चुका होता है ऐसे मे अगर हमे कभी भी कोई अनजान मैसेज या ईमेल आता है जिस पर की कोई लिंक मौजूद हो तब हमें कभी भी उस अनजान लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए।

क्योंकि हो सकता है की वह लिंक Phishing Page यानि हैकर के द्वारा बिछाया गया जाल हो जिसमे की आप फंस जाए, इसलिए कभी भी अगर कोई ऐसा मैसेज या ईमेल आता है जिस पर लिंक मौजूद है तब उससे दूर रहे है या उसे डिलीट कर दे।

2. थर्ड पार्टी Apps को इंस्टॉल मत कीजिए

अक्सर हम थर्ड पार्टी Apps को अपने फोन मे इंस्टॉल करते रहते है जो की हमारे फोन का Access हैकर को दे सकता है। थर्ड पार्टी App से तात्पर्य उन Apps से है जिन्हे हम फोन मे इंस्टॉल करने के लिए सुरक्षित साधनों जैसे प्ले स्टोर, App स्टोर इत्यादि का उपयोग नहीं करते करते है बल्कि इन्टरनेट या फिर गूगल का उपयोग करते है।

मतलब जिन Apps को किसी वेबसाइट पर जाकर इंस्टॉल करते है वे सभी थर्ड पार्टी Apps होते है एवं ये Apps बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होते है। ये थर्ड पार्टी App हमारे फोन का Access लेकर उसे अपने मालिक को भेज सकते है एवं इन Apps को इंस्टॉल करने पर हमारे फोन मे वायरस भी आ सकता है।

3. पासवर्ड को मजबूत बनाइये

पहली बात यह है की आप अपने फोन मे लॉक अवश्य रखिए क्योंकि इससे हमारा फोन सुरक्षित रहता है क्योंकि हमारे फोन का पासवर्ड सिर्फ हमें पता होता है जिस वजह से उसे कोई Access नहीं कर सकता है जिससे की सुरक्षा का कोई खतरा भी नहीं रहता है क्योंकि क्या पता कौन हमारे फोन का लॉक खोलके उसमे कुछ भी गलत कार्य कर दे।

अब दूसरी बात यह है की फोन मे लॉक रखते वक्त किसी भी प्रकार का Pattern या कोई अन्य लॉक न चुने क्योंकि उस तरह के लॉक को खोलना आसान होता है एवं उसके स्थान पर अपने फोन मे सिर्फ और सिर्फ पिन लॉक रखे और उसे साधारण न रखकर काफी मजबूत रखे ताकि कोई भी उसे Guess न कर सके।

4. App लॉक जरूर रखिए.

आज के समय मे मोबाइल पर ही हमारे काफी सारे जरूरी डेटा एवं अलग अलग सेटिंग्स होते है जिन सेटिंग को अगर कोई छेड़छाड़ कर दे तब हमारे फोन का सुरक्षा पर गलत असर पड़ सकता है ऐसे मे हमें अपने फोन मे App लॉक का जरूर उपयोग करना चाहिए क्योंकि इससे अगर किसी के हाथ मे हमारा फोन चल भी जाता है तब भी वह कुछ नहीं कर पाएगा।

अगर आप App लॉक का उपयोग नहीं भी करना चाहते है तब भी आप कम से कम अपने फोन के ब्राउजर, फाइल्स, गैलरी, सेटिंग, प्ले स्टोर इन सब मे App लॉक का उपयोग अवश्य कीजिए क्योंकि इन्ही सभी Application से हमारे फोन की हैक होने की संभावना अधिक है।

5. थर्ड पार्टी वेबसाइट पर लॉगिन मत कीजिए

अक्सर हम अपने दैनिक जीवन मे तरह तरह के वेबसाइट्स को विज़िट करते रहते है जिनमे से कुछ वेबसाइट्स सुरक्षित होते है और कुछ नहीं भी। ऐसे मे हमे किसी भी अनजान वेबसाइट्स पर लॉगिन नहीं करना चाहिए क्योंकि जब हम वेबसाइट पर लॉगिन करते है तब हमारा लॉगिन Details वेबसाइट के डेटाबेस मे स्टोर हो जाता है।

जिसे वेबसाइट का मालिक Access करके उसका गलत उपयोग कर सकता है जैसे हमने किसी वेबसाइट को अपने गूगल आइडी का Access दे दिया तब उस वेबसाइट का मालिक गूगल आइडी का उपयोग करके हमारे फोन को हैक भी कर सकता है। इसलिए किसी भी वेबसाइट पर लॉगिन मत कीजिए और लॉगिन कर रहे है तब उस वेबसाइट के बारे मे पूरी तरह जांच पड़ताल अवश्य कर ले।

6. फोन और फोन के Apps को Updated रखिए.

अगर आप अपने फोन को हैक होने से बचाना चाहते है तब आपको हमेशा अपने फोन और फोन मे मौजूद समस्त Apps को Updated रखना होगा क्योंकि समय के साथ हमारे फोन के सॉफ्टवेयर और हमारे फोन मे मौजूद Application मे Bugs और Security Errors आ जाते है जिनका उपयोग करके हैकर हमारे फोन को हैक कर सकता है।

ऐसे मे जब हम अपने फोन और फोन के सभी Apps को अपडेट करते है तब फोन और फोन मे मौजूद Application के Bugs और Security Errors सभी Fix हो जाते है इसलिए अगर हम अपने फोन को हैक होने से बचाना चाहते है तब हमें अपने फोन को Updated रखना पड़ेगा।

7. App को Permission देते वक्त सावधानी बरतिए.

अक्सर हम अपने दैनिक जीवन मे काफी सारे Apps को अपने फोन मे इंस्टॉल करते रहते है एवं जिन Apps के बारे मे हमें पता नहीं होता है उन्हे भी हम इंस्टॉल करते रहते है लेकिन यहाँ तक तो ठीक है लेकिन हम Apps को इंस्टॉल करने के साथ साथ उन Apps को हम अपने मोबाइल मे अलग अलग चीजों को Access करने का अनुमति दे देते है।

जो की वाकई मे गलत है और इससे हमारा फोन हैक भी हो सकता है और कई सारे हैकर अक्सर Applications के माध्यम से ही हमारे फोन को हैक करते है इसलिए किसी Apps को अपने फोन के अलग अलग चीजों को Access करने की अनुमति देते वक्त ध्यान दे जैसे अगर किसी App को हम कॉलिंग के लिए इंस्टॉल कर रहे है तब उसे Camera इत्यादि को Access करने की अनुमति मत दे बल्कि उसे सिर्फ और सिर्फ Contacts का अनुमति दे।

क्योंकि एक कॉलिंग App को हमारे फोन के Camera, Files इत्यादि की अनुमति की आवश्यकता क्यों होगी।

8. अपने फोन को किसी अन्य व्यक्ति को मत दीजिए.

काफी सारे ऐसे लोग है जो की अपने फोन को अन्य लोगों को चलाने के लिए या फिर किसी भी काम से देते है जो की एक सामान्य व्यक्ति के लिए ठीक है लेकिन अगर आपके फोन मे काफी सारे विभिन्न तरह के कार्य होते है और आप अपने फोन को हैक होने से बचाना चाहते है तब आप अपने फोन को सिर्फ अपने तक ही रखिए किसी भी अन्य व्यक्ति को न दे।

क्योंकि जब आप किसी अन्य व्यक्ति को फोन को देते है तब वह व्यक्ति क्या पता अनजाने मे आपके फोन के साथ कुछ ऐसा Activity कर दे जिससे की आपका फोन हैक हो जाए। इसलिए अपने फोन को किसी को मत दीजिए जो भी काम है खुद से कीजिए।

9. फोन को रूट मत कीजिए.

रूट के बारे मे तो आप जानते ही होंगे की हम अपने फोन को रूट करके काफी सारे अलग अलग Features Add कर सकते है और एक Custom Rom भी हम अपने फोन मे सेट करने सकते है। इसी वजह से काफी सारे ऐसे लोग है जो की अपने फोन को रूट करते है लेकिन फोन को रूट करने से हमारे फोन का Security पर बुरा असर पड़ता है।

समय के साथ फोन मे मौजूद Errors को Fix करने के लिए जो सॉफ्टवेयर Update आता है वह Update आना भी बंद हो जाता है जिससे की हमारा फोन पहले के मुकाबले इतना सुरक्षित नहीं रहता है जिसका फायदा उठाकर Hackers हमारे फोन को हैक कर सकते है इसलिए अगर आप अपने फोन को हैक होने से बचाना चाहते है तब आप अपने फोन को रूम मत कीजीए।

10. Public वाईफाई का उपयोग मत कीजिए.

अक्सर हम अपने दैनिक जीवन मे फ्री Public वाईफाई का उपयोग करते ही रहते है लेकिन यह हमारे लिए नुकसानदायक हो सकता है क्योंकि जब भी आप किसी वाईफाई को अपने फोन मे कनेक्ट कर रहे है तब आपके फोन का डेटा वाईफाई के Modem के जरिए उस वेबसाइट के सर्वर तक जाता है जिसका हम उपयोग कर रहे है।

ऐसे मे अगर आप जिस वाईफाई का उपयोग कर रहे है उस वाईफाई का मालिक चाहे तो आपके डेटा को Access कर सकता है और उस डेटा के जरिए आपके फोन को हैक भी कर सकते है इस वजह से आज के समय मे फ्री Public वाईफाई का उपयोग कभी भी नहीं करना चाहिए।

11. Public चार्जर का उपयोग मत कीजिए.

अक्सर हम रेल्वे स्टेशन, हवाई अड्डा एवं अन्य कई स्थानों पर जाते रहते है जहां पर हमें मोबाइल चार्ज करने के लिए चार्जिंग Switch Boards की सुविधा मिलती है जिस पर पहले से Public चार्जर आर यूएसबी केबल मौजूद होते है जिस यूएसबी केबल मे हम सीधे अपने फोन को Connect करके चार्ज कर सकते है लेकिन ऐसा हमें कभी भी नहीं करना चाहिए।

क्योंकि जब हम ऐसा करते है तब हम जिस यूएसबी से हमने अपना मोबाइल Connect किया है उसके जरिए हमारे फोन मे मौजूद डेटा किसी अन्य जगह पर Transfer भी हो सकते है एवं उस यूएसबी केबल मे किसी भी प्रकार का डिवाइस भी लगा हो सकता है जिसकी मदद से हमारा फोन हैक भी हो सकता है। इस वजह से कभी भी Public चार्जर का उपयोग मत कीजिए।

निष्कर्ष

अगर हम देखे तो आज के समय मे Hackers काफी अधिक Advance हो चुके है जिसकी सहायता से हैकर विभिन्न तरीकों का उपयोग करके हमारे फोन को हैक कर सकता है इसलिए आपको अपने फोन की सुरक्षा खुद से करनी होगी, अब हमने इस आर्टिकल के जरिए आपके साथ हैकिंग से बचने के उपाय के बारे मे काफी जानकारी आपके साथ साझा कर दी है।

उम्मीद है की आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए काफी अधिक मददगार साबित हुआ होगा एवं इस आर्टिकल के जरिए आपने मोबाइल को हैक होने से कैसे बचाये? इस विषय मे काफी कुछ जाना और सीखा होगा। अंत मे आपसे यही कहना चाहेंगे की इस आर्टिकल को Twitter, Facebook इत्यादि पर भी अवश्य शेयर कीजिए ताकि और भी लोग जान सके।

2 thoughts on “मोबाइल फोन को हैक होने से कैसे बचाये (11 तरीके)”

  1. Bhai pley store par ek app quick money app is app criminal active hai mene pley store ko report kari kuch nahi hua siber crime ko report kari lekin wo no.badal badal kar harres karte hai kya in logo ko koi kuch nhi kehta or esi apps ko pley store permission kese de deta hai side se block q nahi karta

    Reply
    • मैम आपको मेरे अनुसार इसके बारे मे 1930 साइबर हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके रिपोर्ट तुरंत करना चाहिए उम्मीद है की आपको मदद मिलेगी

      Reply

Leave a Comment