साइबर क्राइम क्या है? इससे बचने के उपाय

नमस्ते दोस्तों! अक्सर हमे इंटरनेट पर इन दिनों साइबर क्राइम शब्द सुनने को मिलता हैं, जिसे सुनने के बाद यह सवाल आता हैं की आखिर यह साइबर क्राइम क्या है? तो आपको बता दे की साइबर मतलब इंटरनेट और क्राइम मतलब अपराध होता हैं। अब आपको एक बहुत ही छोटे लेवल पर साइबर क्राइम के बारे मे पता चल गया होगा।

लेकिन यह साइबर क्राइम से संबंधित समस्त जानकारी नहीं हैं। आज के समय मे हर एक व्यक्ति जो इंटरनेट का उपयोग करता हैं उसको साइबर क्राइम से सबंधित समस्त जानकारी प्राप्त अवश्य होनी चाहिए क्योंकि इससे वह साइबर क्राइम से खुद को बचा सकता हैं और एक जागरूक इंटरनेट यूजर बन सकता हैं।

अगर हम इसके बारे मे बात करे तो इन दिनों साइबर क्राइम कॉफी तेजी से बढ़ रहा हैं लोग जाने अनजाने मे भी गलती कर बैठते हैं और साइबर क्राइम के शिकार हो जाते हैं, ऐसे मे हमें साइबर क्राइम के सभी Terms को समझना चाहिए और साइबर क्राइम से कैसे बचा जा सकता हैं ? इसके बारे मे भी हमें जानकारी रखनी चाहिए।

इसीलिए हमने सभी तरह के साइबर क्राइम के Terms और साइबर क्राइम से संबंधित समस्त जानकारी को प्राप्त करने के बाद इस लेख को लिखने का चयन किया जिसमे हम साइबर क्राइम से सबंधित समस्त जानकारी जैसे साइबर क्राइम क्या हैं, साइबर क्राइम के प्रकार, साइबर क्राइम से कैसे बचे इत्यादि समस्त जानकारी जानने वाले हैं।

साइबर क्राइम क्या हैं – What is Cyber Crime in Hindi

साइबर क्राइम उस तरह के अपराध होते हैं जो की कंप्युटर के माध्यम से इंटरनेट एवं साइबर स्पेस पर किए जाते हैं, जैसे की अगर हम असल दुनिया मे कोई भी गैर कानूनी कार्य करते हैं तो वह एक प्रकार का अपराध (क्राइम) होता हैं उसी तरह जब इंटरनेट या साइबर स्पेस पर अपराध किए जाते हैं तब उस अपराध को साइबर क्राइम कहा जाता हैं।

यह एक ऐसा अपराध होता हैं जिसमे कंप्युटर और इंटरनेट का उपयोग किया जाता हैं और पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होती हैं। इसके तहत Hacking, Spamming, Data leak, Child Pornography’ जैसे illegal Activities शामिल हैं आसान शब्दों मे समझे तो इंटरनेट कंप्युटर के माध्यम से किसी के Personal Data बिना अनुमति के Access करना और उसका गलत उपयोग करना ही साइबर क्राइम कहलाता हैं।

अगर कोई व्यक्ति ऑनलाइन किसी के Personal data की चोरी करता हैं, किसी के साथ ऑनलाइन धोखाधड़ी करता हैं, ऑनलाइन किसी का पैसा लूटता है, ऑनलाइन Child Pornography को बढ़ावा डेटा हैं, ऑनलाइन नफरत फैलाता हैं जिससे लड़ाई झगड़े हो तो यह सब एक साइबर क्राइम ही हैं।

इंटरनेट पर अक्सर आपने ऑनलाइन बैंकिंग Fraud के बारे मे अवश्य सुना होगा जिसमे अनजान लोग किसी व्यक्ति को Gambling व Lottery जैसे चीजों का लालच देकर उनसे उनके बैंक के Personal Details और पैसे मांगते हैं, यह एक प्रकार का साइबर क्राइम होता हैं और ऐसा करने वाले एक प्रकार के Cyber Criminals होते हैं।

साइबर क्राइम के प्रकार (Types)

साइबर क्राइम के अलग अलग प्रकार होते हैं जिनमे से हर एक प्रकार के साइबर क्राइम को अलग नजरिए से देखा जाता हैं। साइबर क्राइम के कुछ प्रकार निम्नलिखित हैं –

1. Hacking

इंटरनेट, कंप्युटर, टेक्नोलॉजी की मदद से Owner के बिना Permission के उसके System को Access करना हैकिंग कहलाती हैं, ऐसा करना एक अपराध हैं जिसे हम साइबर क्राइम कहते हैं। आज के समय मे सबसे अधिक साइबर क्राइम के नाम पर हैकिंग ही प्रसिद्ध हैं।

Phishing भी हैकिंग के अंतर्गत ही आता हैं यह एक प्रकार का Attack होता हैं जिसमे अगर कोई भी व्यक्ति फंस जाता हैं तो उसके System का Access हैकर के पास चल जाता हैं। ऑनलाइन Phishing का उपयोग करना भी साइबर क्राइम हैं।

2. Theft

अगर कोई व्यक्ति के किसी के बिना अनुमति के उसके Personal Data, Information की चोरी करता हैं और उसे Publicly Leak कर देता हैं तो यह एक प्रकार का साइबर क्राइम होता हैं। बिना अनुमति के उसके Personal Data, Information की चोरी करने को अंग्रेजी मे Theft कहा जाता हैं।

इसके अंतर्गत कॉपीराइट कानून भी आता हैं जिसके तहत हम किसी के सामग्री को उसके Owner के Permission लिए बिना उपयोग नहीं कर सकते है। इसीलिए किसी के बिना अनुमति के उसके Personal Data, Information को कोई भी व्यक्ति Access करता हैं तो उसे Theft माना जाएगा जो की एक साइबर क्राइम हैं।

3. Fraud

अगर कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन इंटरनेट, कंप्युटर की मदद लेकर किसी के साथ धोखाधड़ी करता हैं तो यह एक प्रकार का साइबर क्राइम होता हैं जिसे Online Fraud भी कहते हैं। यह एक पॉपुलर साइबर क्राइम हैं।

आजकल ऐसे Frauds हमें अक्सर देखने को मिलते हैं, जैसे कई बार हमें ऐसे Calls आते हैं जिनमे Lottery जितने की बात की जाती हैं और उस Lottery के पैसे को बन अकाउंट मे Withdraw करने के लिए पैसे मांगते हैं।

यह एक प्रकार के Scam’s, Fraud’s होते हैं जिनमे अक्सर सामान्य लोग फंस जाते हैं।

4. Child Ponography

इसके अंतर्गत छोटे बच्चे को डरा धमकाकर या किसी चीज का लालच देकर उनसे ऐसे कार्य कराये जाते हैं जिनकी उन्हे बिल्कुल भी समझ नहीं होती हैं और Ponography का शिकार बनाया जाता हैं जो की पूरी तरह गैर कानूनी होता हैं।

ऐसा करना करना एक साइबर क्राइम हैं जिसके बदले अपराधी को कड़ी से कड़ी सजा दी जाती हैं।

5. Online Hating

इसके अंतर्गत इंटरनेट सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को किसी गलत कार्य को करने के लिए जोर दिया जाता हैं और किसी के विरुद्ध भड़काया जाता हैं जिससे की दंगे या झगड़े होते हैं। यह एक प्रकार का साइबर क्राइम होता हैं जिसे Online Hating कह सकते हैं।

जब इस तरह के साइबर क्राइम किसी क्षेत्र मे होता हैं तब सरकार उस क्षेत्र के इंटरनेट और नेटवर्कस् को पूरी तरह Disable कर देती हैं।

6. Cyber Bulling

यह एक Common Type हैं साइबर क्राइम का। इंटरनेट सोशल मीडिया के माध्यम से किसी को धमकाना, किसी व्यक्ति को गैर कानूनी कार्य को करने के लिए कहना, किसी व्यक्ति का मजाक बनाना जिससे उसके भावनाओ के ठेस पहुंचे इन्ही सब को Cyber Bulling कहते हैं।

बहुत सारे ऐसे लोग जिन्हे साइबर क्राइम के बारे मे पता नहीं होता हैं वह Cyber bulling के शिकार हो जाते हैं।

7. Spamming

अक्सर Criminals यूजर को ऐसे ईमेल भेजते हैं जिसके माध्यम से उनके कंप्युटर को खराब करने व कंप्युटर को मिटाने का प्रयास किया जाता हैं। ईमेल मे ऐसे फाइल शामिल होते हैं जिन्हे डाउनलोड करने पर कंप्युटर पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं और कंप्युटर मे Virus आ जाता हैं। यह सभी एक प्रकार के Spamming होते हैं जो की एक साइबर क्राइम हैं।

जिन्हे इंटरनेट, कंप्युटर और साइबर सुरक्षा के बारे मे ज्यादा जानकारी नहीं होती हैं वही लोग अक्सर इसके शिकार हो जाते हैं।

Cyber Criminal कौन होते है?

अब सवाल यह आता हैं की आखिर ये Cyber Criminal कौन होते है? तो आपको बता दे की यह ऐसे व्यक्ति होते हैं जो इंटरनेट, कंप्युटर का उपयोग साइबर क्राइम को करने के लिए या साइबर क्राइम को बढ़ावा देने के लिए करते हैं।

जैसे जो व्यक्ति इंटरनेट, कंप्युटर टेक्नोलॉजी का उपयोग करके के किसी व्यक्ति के Personal Information, Data, Bank Details की चोरी करते हैं एवं किसी व्यक्ति के साथ फ्रॉड करते हैं, उसके Personal data को Publicly Leak करते हैं और Child Pornography को बढ़ावा देते हैं यह सब एक Cyber Criminal’s होते हैं।

साइबर क्राइम से कैसे बचे?

हर एक इंटरनेट यूजर को साइबर क्राइम से बचना बेहद ही आवश्यक हैं क्योंकि इंटरनेट पर Scammer’s हमेशा ही किसी न किसी व्यक्ति के साथ Scam करने की तलाश मे रहते हैं और जब उन्हे एक अच्छा मौका प्राप्त हो जाता हैं तब वे साइबर क्राइम को करने मे पीछे नहीं हटते हैं. ऐसे मे सावधानी हमें ही बरतनी होगी।

इसके लिए साइबर क्राइम, साइबर सुरक्षा को समझना बेहद ही आवश्यक हैं व साथ मे साइबर सुरक्षा के सभी नियमों का पालन करना होगा इन्ही को समझकर और इन्ही का पालन करके हम अपने साथ साइबर क्राइम होने से बच सकते हैं।

साइबर क्राइम से बचने के उपाय

अगर आप साइबर क्राइम से बचने के कुछ उपाय चाहते हैं तो इसके लिए हमने नीचे साइबर क्राइम से बचने के उपाय आपके साथ साझा किए हैं जिनको पढ़कर आप साइबर क्राइम से बच सकते हैं –

1. अनजान लिंक पर क्लिक न करे. अक्सर हर एक इंटरनेट यूजर को ऐसे ईमेल और मैसेज आते रहते हैं जिन पर अनजान लिंक मौजूद होते हैं ऐसे मे हमें इन ईमेल और मैसेज से सावधान रहना चाहिए और हमें इन ईमेल और मैसेज मे मौजूद अनजान लिंक पर कभी भी क्लिक नहीं करना चाहिए।

2. अनजान वेबसाइट पर ध्यान दे. कभी भी किसी भी वेबसाइट को विज़िट करते वक्त सबसे पहले HTTPS पर ध्यान देना चाहिए। अगर वेबसाइट के लिंक मे HTTPS के बजाय HTTP हैं तो हमें ऐसे वेबसाइट पर नहीं जाना चाहिए और अनजान वेबसाइट पर हमें भूलकर लॉगिन नहीं करना चाहिए और Personal Details को साझा नहीं करना चाहिए।

3. Third Party Apps, Software को इंस्टॉल न करे. अक्सर हम किसी Software या Apps को फ्री मे इस्तेमाल करने के चक्कर मे ऐसे Third Party Apps, Software को अपने कंप्युटर या समर्टफोन मे इंस्टाल कर लेते हैं जो की बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं होता हैं और इससे हमारा कंप्युटर, स्मार्टफोन Hack हो सकता हैं। इसीलिए कभी भी किसी भी Third Party Apps, Software मत कीजिएगा।

Apps को इंस्टाल करने के लिए सिर्फ प्ले स्टोर का उपयोग करे एवं किसी भी App को अपने फोन की Permission’s देने से पहले यह जाँचे की क्या उस App को उस Specific Permission की जरूरत हैं।

4. Personal Information को Personal ही रखे. अक्सर हम अपने Personal Details, Information को सोशल मीडिया साइट्स पर Public कर देते हैं ऐसा हमें कभी भी नहीं करना चाहिए क्योंकि कोई भी अनजान व्यक्ति आपके Personal Details, Information का गलत उपयोग कर सकता हैं।

5. ऑनलाइन Scheme और Lottery पर भरोसा न करे. अक्सर हमें और हमारे आस पास मौजूद लोगों को ऐसे Calls आते रहते हैं जिनमे ऑनलाइन Scheme और Lottery की बात की जाती है, पैसे देने का दावा करते हैं और उसके बदले हमारे Personal Details और पैसे मांगते हैं तो ऐसे चीजों पर लालच मे आकार बिल्कुल भी विश्वास नहीं करना चाहिए।

6. Public WIFI का उपयोग न करे. अगर आप फ्री इंटरनेट के चक्कर मे Public वाईफाई का उपयोग करते हैं तो सावधान हो जाए क्योंकि आज के समय मे फ्री Public वाईफाई बिल्कुल भी सेफ नहीं हैं इससे आपका System हैक हो सकता हैं।

इसीलिए कभी भी अगर फ्री वाईफाई का इस्तेमाल कर रहे हैं तब आप इस बात पर ध्यान दीजिएगा की वह वाईफाई नेटवर्क एक Verified Organization का हैं या नहीं।

7. अपने Browser को Updated रखे. इंटरनेट का उपयोग करने के लिए Brower बेहद ही आवश्यक होता हैं ऐसे मे हमारे Browser मे ऐसी कई सारी कमिया होती हैं जिनसे हैकर हमारे System को हैक कर सकता हैं। इन्ही कमियों को Fix करने के लिए Browser मे Update लाया जाता हैं इसीलिए हमें अपने Browser को Updated रखना चाहिए।

ऑनलाइन साइबर क्राइम का Complaint कैसे करे ?

अगर आपके से साथ ऑनलाइन किसी भी तरह का दुर्व्यवहार किया जा रहा हैं जैसे, ऑनलाइन कोई धमकी दे रहा हैं, किसी ने Fraud कर के आपके बैंक से पैसे लूट लिए हैं, आपके Personal Photos को सोशल मीडिया पर Publish कर दिया हैं, ऑनलाइन Financial Fraud हुआ हैं, किसी ने आपकी Fake प्रोफाइल बनाई है इत्यादि।

जैसे Case मे आप ऑनलाइन साइबर क्राइम का Complaint करना चाहते हैं तो इसके लिए आप भारत सरकार साइबर Complaint की मुख्य वेबसाइट cybercrime.gov.in मे जा सकते हैं और आपको तुरंत साइबर Complaint करनी है तो इसके लिए 1930 इस नंबर पर कॉल कर सकते हैं।

अगर आप साइबर क्राइम को और अधिक तरीके से Detail मे समझना चाहते हैं और साइबर क्राइम के Laws के बारे मे बारीकी से जानना चाहते हैं तो इसके लिए आप हमारी भारत सरकार के साइबर क्राइम की मुख्य वेबसाइट cybercrime.gov.in पर जा सकते हैं। 

FAQ’s (अक्सर पूछे जाने वाले सवाल)

साइबर अपराध मे क्या क्या आता है?

साइबर अपराध मे कंप्युटर और इंटरनेट के माध्यम से की गई सभी तरह की क्राइम जैसे Hacking, Spamming, Data leak, Child Ponography’ इत्यादि illegal Activities शामिल हैं।

साइबर क्राइम रिपोर्ट कैसे करे?

साइबर क्राइम का तुरंत रिपोर्ट करने के लिए फोन मे 1930 नंबर मे कॉल कीजिए।

भारत साइबर अपराध की मुख्य वेबसाइट कौन सी है?

भारत साइबर अपराध की मुख्य वेबसाइट cybercrime.gov.in हैं।

निष्कर्ष

अब हम आपके साथ साइबर क्राइम से संबंधित समस्त जानकारी को साझा कर चुके हैं। उम्मीद हैं की अब आपने इस लेख मे दी गई साइबर क्राइम से संबंधित समस्त जानकारी को पढ़कर बहुत कुछ सिखा होगा और यह जान लिया होगा की साइबर क्राइम क्या हैं (What is Cyber Crime in Hindi) अगर अभी भी आपके मन मे इससे समबंधित कोई भी सवाल हैं तो उसे आप बेहिचक होकर हमें Comment के माध्यम से पूछ सकते हैं।

इस लेख को Social Media जैसे Facebook, Twitter के माध्यम से अन्य लोगों तक साझा करे जिससे अन्य लोग भी साइबर क्राइम के बारे मे जानकारी प्राप्त कर सके और आपको यह लेख कैसा लगा Comment मे लिखकर अवश्य बताएं।

Leave a Comment