कंटेन्ट राइटिंग कैसे सीखे (10 तरीके)

बहुत सारे लोगो के मन में कंटेन्ट राइटिंग कैसे सिखे? यह सवाल अवश्य आता होगा क्योंकि वर्तमान के समय में कंटेन्ट राइटर्स कि बहुत ही अधिक Demand है और आने वाले समय में कंटेन्ट राइटर्स कि जरुरत और अधिक पड़ने वाली है क्योंकि आने वाला समय पुरी तरह से डिजिटल दुनिया का समय है।

कंटेंट राइटर एक 500 शब्दों के कंटेन्ट को लिखने के लिए लगभग, 700 से 1,000 रुपये तक चार्ज करता है जो कि वाकई में बहुम बड़ा Amount है, ऐसे में आपके मन में भी यह सवाल अवश्य आ रहा होगा कि क्यों ना हम भी कंटेन्ट राइटर बन जाए, तो आपको इस लेख को पुरा अवश्य पढ़नी चाहिए।

आज के समय मे कंटेन्ट राइटिंग सीखने के लिए व कंटेन्ट राइटिंग से पैसा कमाने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं हैं यह सब काम घर बैठे कर सकते हैं, और ऑनलाइन कंटेन्ट राइटिंग से पैसा कमा सकते हैं लेकिन अगर आप कंटेन्ट राइटर बनना चाहते हैं तो आपको अपने लिखने की स्किल को Improve करना पड़ेगा।

इस लेख को पढ़ने के बाद आपको कंटेन्ट राइटिंग के कुछ Content writing tips पता चलने वाले हैं जिनको अगर आप ध्यानपूर्वक फॉलो करते हैं और उन तरीकों को अगर आप कंटेन्ट लिखते समय अपने कंटेन्ट मे implement करते हैं तो आप भी एक Professional Content Writer बनकर कंटेन्ट राइटिंग से पैसा कमा पाएंगे।

  • तो चलिए बिना देरी के यह जानते हैं “Content writing kaise sikhe” और कुछ नया सीखते हैं।

कंटेन्ट राइटिंग कैसे सीखे?

कंटेन्ट राइटिंग को कभी भी सीखने से पहले हमें “Content writing kya hai” यह जरूर जानना चाहिए।

कंटेन्ट राइटिंग सीखने के लिए हमे ज्यादा efforts डालने की जरूरत नहीं पड़ती हैं, बल्कि कंटेन्ट राइटिंग मे हमें अपने Thoughts को लिखना होता हैं, लेकिन लिखने का मतलब यह नहीं हैं की किसी भी तरह हम लिख दे, कंटेन्ट राइटिंग मे हमें कुछ इस तरह लिखना होता हैं की देखने वाले को भी आकर्षक दिखे व पढ़ने वालों को को मजा आए साथ मे कुछ इस तरह लिखे की को Reader कंटेन्ट को पड़ते वक्त बोर न हो।

अगर आप एक Professional Content Writer बनना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कीजिए।

1. Paragraph 4 लाइन से ज्यादा का न लिखे

जब भी हम एक नया आर्टिकल लिख रहे हैं तब हमें अपने आर्टिकल के पैराग्राफ को कभी भी चार लाइन से अधिक नहीं रखना चाहिए बल्कि चार लाइन के बाद फिर से एक नया पैराग्राफ शुरू करना चाहिए, क्योंकि इससे Readers irritated और आर्टिकल को पढ़ते पढ़ते वह बोर हो जाते हैं।

अक्सर जो एक नया कंटेन्ट राइटर होता हैं वह यही गलती करता हैं जिससे Readers उनके आर्टिकल को पुरा नहीं पढ़ते हैं।

2. Headings का उपयोग कीजिए

आपको बता दे की किसी भी तरह के कंटेन्ट को लिखने के लिए Headings बहुत ही अधिक महत्वपूर्ण होते हैं, जिनका हमें ध्यानपूर्वक उपयोग करना पड़ता हैं इससे हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल की रैंकिंग पर भी प्रभाव पड़ता हैं, जो सबसे मुख्य कीवर्ड हो उसे H2 Headings देना चाहिए उसके बाद उससे कम महत्वपूर्ण कीवर्ड को H3 Headings देना चाहिए।

यह एक सही उपयोग होता हैं Headings का इससे Readers को आर्टिकल को पढ़ने व समझने मे आसानी होती हैं, इसलिए कंटेन्ट लिखते समय Headings का उपयोग कीजिए।

3. List का उपयोग कीजिए

अगर आप किसी तरह के भी आर्टिकल टूल मे लिख रहे हैं तो आपको List का ऑप्शन अवश्य मिलेगा, कभी भी हम किसी प्रकार के आर्टिकल को लिख रहे हैं तब हमें अपने आर्टीले मे ऐसे points कवर करने पड़ते हैं जिनके लिए List का उपयोग करना चाहिए इससे हमारा आर्टिकल आकर्षक लगता हैं और Readers को भी पढ़ने मे आसानी होती हैं।

4. अपने Thoughts को समझे

जब भी हम किसी के लिए भी कंटेन्ट लिख रहे हैं तब हमें अपने अंदर चल रहे Thoughts को समझना जरूरी हैं क्योंकि अगर हम अपने Thoughts के हिसाब से अपने कंटेन्ट को लिखेंगे तो इससे आपका कंटेन्ट सबसे अलग और बेहतर होगा व साथ मे जब हम अपने कंटेन्ट को लिख रहे हैं तब कंटेन्ट को कैसे दुसरो से अलग और बेहतर बनाएं यह Thoughts रखने चाहिए।

इससे कंटेन्ट की Quality धीरे धीरे improve होगी, और आप अपने कंटेन्ट राइटिंग की स्किल मे Expert बनते जाओगे।

5. टॉपिक के बारे मे पूरी जानकारी Research कीजिए

कभी भी किसी भी टॉपिक पर अगर कंटेन्ट लिख रहे हैं तो सबसे पहले हमें कंन्टेट के बारे मे पूरी जानकारी को रिसर्च कर लेना चाहिए उसके बाद ही कंटेन्ट को लिखने की शुरुआत करनी चाहिए क्योंकि अगर हम ऐसे टॉपिक पर कंटेन्ट लिख रहे हैं जिसकी हमें कोई भी जानकारी नहीं हैं तो हम अच्छे से कंटेन्ट नहीं लिख पाएंगे।

टॉपिक के बारे मे पूरी जानकारी Research करना बहुत ही ज्यादा आवश्यक होता हैं इसके बिना हम कंटेन्ट लिखने का सोच भी नहीं सकते हैं।

6. आर्टिकल को आकर्षक बनाएं

कंटेन्ट को लिखते समय हमें कंटेन्ट को इस तरह लिखना चाहिए की Readers आर्टिकल को पूरा पढ़ने पर मजबूर हो जाएं व आर्टिकल से पूरी तरह प्रभावित हो, इसके लिए हमें अपने आर्टिकल को कुछ इस तरह लिखना चाहिए की जो देखने मे बेहद आकर्षक लगे इसके लिए आप अपने हिसाब से अलग अलग तरीकों से Customize कर सकते हैं।

यह भी जानिए : डाटा एंट्री क्या है और कैसे करे ?

7. इनफार्मेशन को Deep मे लिखे

आज के समय मे एक अच्छा कंटेन्ट उसी को माना जाता हैं जिसमे इनफार्मेशन Deep मे हो, इससे कंटेन्ट मे शब्दों की संख्या मे बढ़ोतरी होती हैं व साथ मे आपका कंटेन्ट एक हाई क्वालिटी माना जाता हैं, अगर आप किसी blogger के लिए कंटेन्ट लिख रहे हैं तो इनफार्मेशन को Deep मे लिखना अनिवार्य हैं क्योंकि वर्तमान मे Deep इनफार्मेशन वाला कंटेन्ट ही जल्दी रैंक करता हैं।

आपको बता दे की ऐसे कंटेन्ट राइटर्स ही ज्यादा अधिक पैसा कमा पाते हैं जिनके द्वारा लिखे गए कंटेन्ट मे जानकारी टॉपिक के गहराई तक हो।

8. जिस भाषा मे लिख रहे हैं उस भाषा को बारीकी से समझे

एक बेहतर कंटेन्ट राइटर बनने के लिए जिस भाषा मे आप कंटेन्ट लिख रहे हैं उस भाषा का आपको बारीकी से ज्ञान होना चाहिए, इससे कंटेन्ट को लिखने मे आसानी होती हैं व जिससे Readers को आर्टिकल को समझने मे आसानी होगी। अगर आप जिस भाषा मे कंटेन्ट लिखते हैं उस भाषा का आपको ज्यादा अधिक ज्ञान नहीं हैं तो ऐसे मे आप अच्छे से लिख नहीं पाएंगे।

जिससे Readers कंटेन्ट को पढ़ने मे interested नहीं होंगे व आपका आर्टिकल Low Quality का कंटेन्ट माना जाएगा।

9. महत्वपूर्ण कीवर्डस् को Bold कीजिए

अगर आप एक बेहतर और Professional Content Writer बनकर पैसा कमाना चाहते हैं तो इसके लिए जब भी आर्टिकल लिखे तब महत्वपूर्ण कीवर्डस् और रिलेटेड कीवर्डस् को अवश्य Bold कीजिएगा क्योंकि इससे आर्टिकल आकर्षक नजर आता ही हैं बल्कि कंटेन्ट जल्दी रैंक भी करता हैं।

लेकिन इसका मतलब यह नहीं हैं की सभी रिलेटेड कीवर्डस् को bold कर दे, नबाल्की सिर्फ ऐसे कीवर्डस् को bold कीजिए जो वाकई मे महत्वपूर्ण हो।

10. आर्टिकल लिखने के बाद Read कीजिए

यह सबसे महत्वपूर्ण टिप हैं क्योंकि अक्सर कंटेन्ट राइटर कंटेन्ट को पूरा लिखने के बाद उसे दोबारा नहीं पढ़ते हैं यह उनकी एक बड़ी गलतियों मे से एक होती हैं क्योंकि जब हम कंटेन्ट को लिख रहे होते हैं तब हमसे अनजाने मे ऐसी कई सारी Words, spelling की गलतीया हो जाती हैं जिनके बारे मे हमें पता नहीं होता हैं, इससे Readers को पढ़ने मे परेशानी होती हैं।

जब हम अपने द्वारा लिखे गए कंटेन्ट को दोबारा पढ़ते हैं तब हमें उन गलतियों के बारे मे पता चलता हैं, इसीलिए आर्टिकल लिखने के बाद उसे फिर से Read कीजिए और गलतियों को सुधारिए।

कंटेन्ट राइटिंग को जल्दी सीखने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स

अगर आप कंटेन्ट राइटिंग को कम से कम समय के अंदर जल्दी सीखना चाहते हैं तो इसके लिए नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो कीजिए।

#1 रोजाना लिखने का प्रयास कीजिए

किसी भी काम को सीखने के लिए व उस काम मे Expert बनने के लिए हमें उस काम को रोजाना करना चाहिए क्योंकि इससे हम धीरे धीरे बेहतर बनते जाते हैं, इसीलिए अगर आप कंटेन्ट राइटिंग कम से कम समय मे बनना चाहते हैं तो इसके लिए रोजाना लिखने का प्रयास कीजिए।

#2 शांत माहौल मे कंटेन्ट लिखे

कंटेन्ट राइटिंग एक ऐसा स्किल हैं जिसे सीखने के लिए हमें कंटेन्ट को लिखते वक्त बहुत ज्यादा फोकस करना पड़ता हैं, तब जाके एक अच्छा कंटेन्ट लिखने मे सफल हो पाते हैं, अगर अपा ऐसे माहौल मे रहते हैं जहां पर शोर अधिक हैं तो ऐसे मे आप कंटेन्ट लिखने मे

#3 Content Writers के कंटेन्ट को Read कीजिए

अगर आप एक अच्छा कंटेन्ट लिखना चाहते हैं तो आपको लिखने के साथ पढ़ना भी चाहिए क्योंकि उससे हमारा Mindset develop होता हैं की आखिर कंटेन्ट को किस तरह लिखना चाहिए इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं हैं की हम कुछ भी चीजे पढ़ते रहे। कहने का मतलब हैं की ऐसे Content Writers के द्वारा लिखे गए आर्टिकल को पढ़ें, जो की Already कंटेन्ट राइटिंग के Field मे expert हैं।

source – wscubetech

(FAQ’s) अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

कंटेन्ट लिखने के लिए बेस्ट टूल कौन सा है?

कंटेन्ट लिखने के लिए Microsoft word, Google Input tool यह कुछ बेस्ट टूल हैं।

किस भाषा मे कंटेन्ट लिखना चाहिए?

यह आपके ऊपर हैं की आप किस भाषा मे Expert हैं, बाकी भाषाओ के मुकाबले कंटेन्ट राइटिंग मे अंग्रेजी भाषा मे आधिक पैसा मिलता हैं।

अच्छा कंटेन्ट लिखने के लिए क्या कीवर्ड रिसर्च करना चाहिए?

जी हाँ एक अच्छा कंटेन्ट लिखने के लिए हमें कीवर्ड रिसर्च करना चाहिए और अगर आप किसी ब्लॉगर के लिए कंटेन्ट लिख रहे हैं तो कीवर्ड रिसर्च करना अनिवार्य हैं।

निष्कर्ष

अब उम्मीद हैं की आपने इस लेख को पढ़कर आज आपने कंटेन्ट राइटिंग के बारे मे बहुत कुछ सिखा होगा और यह जान लिया होगा की कंटेन्ट राइटिंग कैसे सीखे? अगर आपके मन मे कंटेन्ट राइटिंग या फिर इंटरनेट से सबंधित कोई भी सवाल हैं तो आप हमसे नीचे कमेन्ट मे पूछ सकते हैं, इस लेख को Twitter, Facebook, Pinterest जैसे सोशल मीडिया पर भी शेयर कीजिये।

Leave a Comment